जानिए गले और छाती की बलगम से राहत पाने के अचूक घरेलू उपाय

556

क्या आपको गले और छाती में कुछ जमा हुआ सा महसूस हो रहा है? सांस लेने में तकलीफ और लगातार छीकें आ रही हैं? ये सारे लक्षण बलगम जमा होने के होते हैं। साथी ही, नाक बहना और बुखार आना भी इस समस्या के प्रमुख लक्षण हैं। बलगम हमारे गले व फेफड़ों में जमने वाली एक श्लेष्मा होती है ,जो खांसी या खांसने के साथ बाहर आता है। बलगम हालांकि खतरनाक नहीं होता लेकिन अगर ये लंबे वक्त तक जमा  रहे तो इससे आपको श्वास संबंधी अन्य समस्याएं हो सकती हैं।अगर यह बाहर बहती है तो ये अच्छा है,वरना यह काफी सारी  बीमारियों को न्योता देती है, जिससे हम  अस्थमा  जैसी और बड़ी बिमारी के सहवास (cohabitation) में आ जाते है।

क्या सांस लेने में तकलीफ और लगातार छीकें आ रही हैं? ये सारे लक्षण बलगम जमा होने के कारण हैं। साथही, नाक बहना और बुखार आना भी इस समस्या के प्रमुख लक्षण हैं। बलगम जमने के बहुत सारे कारण हो सकते हैं, जैसे कि सर्दी-जुकाम, फ्लू, वायरल इन्फेक्शन, साइनस, अत्यधिक स्मोकिंग | इससे चुटकारा पाने के लिए हमने कुछ घरेलु उपाय बताये है जिसके उपाय से आप बलगम  को आसानीसे दूर कर सकते है |

हल्दी – बलगम को दूर करने का घरेलु उपाय

हल्दी एक हर्बल है, जिसका उपयोग एंटीसेप्टिक के तोर पर होता है। हल्दी  काफी बीमारियों पे असरदार होती है, उसीप्रकार  बलगम  के उपचार के लिए हल्दी सबसे अधिक प्रभाव डालने वाली चीज है। ये एंटीऑक्सीडेंट की तरह काम करती है और इसमें कर्क्यूमिन होता है जो शरीर की बहुत सारी आंतरिक और बाहरी समस्याओं में फायदा पहुंचाता है।

सामग्री 1 ग्लास गर्म दूध,हल्दी,आधा चम्मच काली मिर्च पाउडर,1 चम्मच शहद

विधि

एक ग्लास गर्म दूध में हल्की और आधा चम्मच काली मिर्च पाउडर मिलाएं।

अब इसमें एक चम्मच शहद मिलाएं।

बलगम को दूर करने के लिए इसे रोज पियें।

शहद और अदरक- बलगम से छुटकारा पाने का रामबाण इलाज

शहद और अदरक का मिश्रण जिससे हम सांस संबंधी समस्यायों को आसानी से ठीक कर सकते हैं। शहद और अदरक  से आप काफी सारी बीमारियों से छुटकारा पा सकते हैं। इसके कोई साइडइफेक्ट नहीं होते।

सामग्री 100 ग्राम अदरक,2-3 चम्मच शहद

विधि

100 ग्राम अदरक को कूट लें।

दो-तीन चम्मच शहद को उसमें मिला लें।

इस पेस्ट को दो-दो चम्मच दिन में दो बार लें।

इससे आपकी बलगम (cough) की समस्या दूर हो जाएगी।

लेमन टी- बलगम से दे छुटकारा  

लेमन टी हमारे शरीर के लिए काफी असरदार है ,जिसके कोई साइडइफेक्ट नहीं है। नींबू में मौजूद सिट्रिक एसिड और शहद के एंटीसेप्टिक तत्व बलगम कम करने और गले का दर्द दूर करने में मदद करते हैं।

सामग्री  1 चम्मच नींबू का रस,1चम्मच शहद

विधि

एक चम्मच ताजे नींबू का रस लीजिए।

और उसमे एक चम्मच शहद  मिला दीजिए।

रोजाना लेमन टी  लेने से आपकी सेहत अच्छी रहेगी  और  बलगम जैसी समस्या से छुटकारा मिलेगा।

सफेद-मिर्च करे बलगम का जड़से सफाया

सफेद मिर्च एक जड़ी बूटी है जिसे प्राचीन काल से जाना जाता है। फ्लैवोनॉइड्स, विटामिन और एंटी-ऑक्सीडेंट के गुणों से भरपूर सफेद या दखनी मिर्च का इस्तेमाल कई हेल्थ प्रॉब्लम को दूर करने के लिए किया जाता है। सफेद मिर्च जीवों के खिलाफ लड़ते है ,जो शरीर में प्रवेश कर सकते हैं ।

सामग्री आधा चम्मच सफेद कालीमिर्च,1 चम्मच शहद

विधि

आधी चम्मच सफेद कालीमिर्च को पीस लें।

इसमें 1 चम्मच शहद मिला लें।

इस मिक्सचर को 10-15 सेकेंड माइक्रोवेव करें। फिर पी लें।

इसे पीते ही आपको फौरन आराम मिलेगा।

बलगम से पूरी तरह छुटकारा पाने के लिए इस मिक्चर को एक हफ्ते तक दिन में तीन बार जरूर लें।

लहसुन और नींबू बलगम में रामबाण  इलाज

लहसुन  का उपयोग औषधि के तौर पर भी किया जाता है। लहसुन में सूजन दूर करने वाले तत्व मौजूद होते हैं । नींबू पानी विटामिन सी के गुणों से भरपूर होता है। साथ ही इसमें एंटी-ऑक्सीडेंट के गुण भी होते हैं। जब दोनों का इस्तेमाल किया जाता है तो ये बलगम दूर करने में हमारी मदद करते हैं।

सामग्री 1 कप पानी,3 नींबू, थोड़ी सी अदरक,आधा चमच काली मिर्च का पाउडर

विधि

एक कप पानी उबालें। उसमें तीन नींबू निचोड़ें।

थोड़ा सा कुटा हुआ अदरक मिलाएं।

साथ में आधी चम्मच काली मिर्च का पाउडर और एक चुटकी नमक।

इन सब को अच्छे से मिला लें और पी लें।

इससे आपको बलगम की समस्या से फौरन निजात मिल जाएगी।

गरारे करने से  मिले बलगम से तुरंत आराम

रोजाना गरारे करने से गला साफ रहता और बलगम नहीं बनता। अगर गले और छाती की बलगम से परेशान हैं तो  गर्म पानी से गरारे करें इससे आपको आराम मिलेगा ।

सामग्री 1 ग्लास गर्म पानी,1 चम्मच नमक

विधि

एक ग्लास गर्म पानी में एक चम्मच नमक मिलाएं।

अपनी गर्दन थोड़ी सी पीछे कीजिए और फिर इस नमक के पानी से गरारे करें।

इस पानी को निगलें नहीं, कुछ देर तक गले में रखकर गरारे करने के बाद आप निश्चित रूप से अच्छा महसूस करेंगे।

प्याज और नींबू दे बलगम में आराम

प्याज एक अति लाभकारी वनस्पति है जिसके कई रोग निवारक औषधीय गुण हैं और प्याज में एक महत्वपूर्ण मात्रा में क़ुएरसेटीं होता है। विटामिन सी भी एक मजबूत एंटीऑक्सीडेंट है जिससे शरीर में मुक्त कणों की मौजूदगी और प्रभाव कम हो सकता है। प्याज  से बलगम की समस्या दूर हो सकती है।

सामग्री  1 प्याज,1 नींबू,1 कप पानी,1 चम्मच शहद

विधि

एक प्याज छील कर उसे पीस लें।

अब एक नींबू का रस निकाल लें।

इसे एक कप पानी में इन दोनों को मिलाकर दो तीन मिनट के लिए उबाल लें।

आंच से उतार लें और एक चम्मच शहद मिला लें।

इस मिक्सचर को  दिन में तीन बार पियें, बलगम की समस्या दूर हो जाएगी।

मेथी से मिले बलगम (cough)में राहत

मेथी का औषधि रूप में इस्तेमाल किया जाता  है।  मेथी में विटामिन्स, मिनरल्स और औषधीय गुणों का स्रोत है। मेथी पत्तियों की पौष्टिक सब्जी और मेथी बीज बीमारियों विकारों को नष्ट करने में सहायक हैं।

सामग्री  3 चम्मच  मेथीदाना,2 कप पानी,1 चमच शहद

विधि

3 चम्मच  मेथीदाना को 2 कप पानी में डालकर दोपहर में भिगो दें।

रात को इसी पानी में उबालकर एक कप पानी रहने पर छानकर स्वादानुसार शहद मिलाकर सोते समय कुछ सप्ताह तक नित्य  पीते रहे।

इससे गले और छाती की बलगम ,कफ, दमा, फेफड़े के रोग, टी.बी, पीलिया, रक्ताल्पता (खून की कमी), कमर-दर्द, अनियमित माहवारी आदि में लाभ होता है।

तुलसी दे बलगम  (cough)में राहत

आयुर्वेद में तुलसी का एक विशेष स्थान है और तुलसी बलगम (cough) पर काफी असरदार होती है, तुलसी के रस में बलगम को पतला करके निकालने का गुण है।

सामग्री  50 ml तुलसी के पत्तों  का रस,5 चम्मच चीनी

विधि

50 ml तुलसी के पत्तों के रस में 5  चम्मच चीनी मिलाकर शर्बत बना लें।

एक छोटा चम्मच रोजाना ये रास पिए।

इससे  बलगम (cough) निकल जायेगा।

अगर आपको ये पोस्ट अच्छी लगी तो जन-जागरण के लिए इसे अपने Facebook पर शेयर करें ।

ऐसी ही और बातों के लिए like करें हमारे पेज Such Khu को।

और ऐसे ही अन्य स्वास्थ्य सम्बन्धी जानकारी के लिए निचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें और गुरूप ज्वाइन करें।

जुडें हमारे फेसबुक ग्रुप से क्लिक करें आयुर्वेदिक देशी नुस्खे।


Warning: A non-numeric value encountered in /home/khabarna/public_html/suchkhu.com/wp-content/themes/Newspaper/includes/wp_booster/td_block.php on line 352