जानिए कैसे, हर रोज एक गिलास धनिया का जूस पीने से लीवर और किडनी रहेंगे स्वस्थ

2859

आज की इस भाग दौड़ भरी जिंदगी में हम अपनी सेहत का ठीक से ध्यान नहीं रख पाते। बाहर का खाना हमारी सेहत पर गलत प्रभाव डालता है, जिससे हमारे शरीर के श्वशन तंत्र, पाचन तंत्र, एक्सक्रेटरी सिस्टम खराब होने लगते है। अच्छा खान पान ही हमारी सेहत के लिए अच्छा रहता है।

मनुष्य का शरीर ढेर सारे अंगो से मिलकर बना है जो शरीर को बेहतर रखने के लिए अच्छी तरीके से काम करते रहते हैं। मनुष्य का शरीर जिन अंगो से मिलकर बना है उनमें पेट, लिवर, किडनी, पैन्क्रीयाज और फेफड़े आदि मुख्य रूप से हैं।

मनुष्य के शरीर में मौजूद इन अंगो का अलग-अलग काम होता है जैसे हमारी किडनी का काम है ब्लड को शुद्ध करना और शरीर के बेकार और विषैले पदार्थों को बाहर निकालना। पैन्क्रीयाज आंतो में कुछ पाचक एंजाइम का स्राव करके पाचन क्रिया में अहम भूमिका अदा करता है। इसके अलावा यह इन्सुलिन नामक एक हार्मोन भी स्रावित करता है जो कि शरीर के ग्लूकोस लेवल को नियंत्रित करने का काम करता है जिससे डायबिटीज आदि नहीं होती है।

ऐसे ही लीवर हमारे शरीर का एक अहम अंग होता है जो कि बाइल जूस का स्राव करता है और शरीर के सारे टॉक्सिक पदार्थों को बाहर निकालने का काम करता है। ये सारे ही अंग हमारे लिए बहुत ही अहम हैं लेकिन कभी कभी कुछ अशुद्धियों की वजह से इनका काम बाधित होता है और हमें दिक्कत होने लगती है। गलत खान-पान इन सभी अंगो को बाधित करते है। इसलिए आज हम आपको आयुर्वेद उपचार बता रहे है जिनके सेवन से आप अपने अंगो को स्वस्थ रख सकते है।

धनिया आराम से कहीं भी मिल जाता है। धनिया जो कि लिवर, किडनी और पैन्क्रीयाज को अच्छे से साफ करता है और स्वस्थ रखता है। धनिया के और भी फायदे हैं जैसे लिवर से फैट को बाहर निकालना और शरीर के शुगर लेवल को नियंत्रित करना। इसके अलावा किडनी में स्टोन को बनने से रोकता है। इसमें वो सारे औषधीय गुण मौजूद हैं जो शरीर को डीटोक्सीफाई करने के लिए जरुरी होते हैं। तो आइये हम आपको इस धनिये को कैसे इस्तेमाल करें।

धनिये का पानी

धनिये को रोज की डाइट में भी इस्तेमाल कर सकते है। आप सबसे पहले पानी में धनिये के पत्ते को डालकर उसे कम से कम 15 मिनट तक उबालें और फिर उसे एक साफबोतल में छानकर रख लें। इसके बाद इस पानी को आप रोज कुछ दिनों तक पियें फिर आप देखेंगे कि आपके हेल्थ में किस तरह से सुधार हो रहा है।

धनिया और नींबू सूप

ताजा धनिया के पत्ते

आधा चम्मच मक्के का आटा

एक चम्मच क्रीम

एक चम्मच मिर्च पाउडर

एक चम्मच नमक और आधा कटा हुआ नींबू

बनाने की विधी-

इसके लिए आप सबसे पहले धनिया के पत्तों को एक कप पानी में डालकर 15 मिनट तक उबाल लें और इसे अलग एक कप में रख दें। इसके बाद इसमें मक्के के आटे का पेस्ट बनाकर मिला दें। फिर इसमें क्रीम और एक चुटकी मिर्च पाउडर डालें, फिर अपने स्वादानुसार नमक मिलाएं और नींबू के रस को इसमें निचोड़ लें, इस तरह से आपका यह हेल्दी और गर्म सूप तैयार हो जायेगा।

इस तरह से आप अपने घर में ही इन प्राकृतिक चीजों के इस्तेमाल से अपने शरीर के अंगो को साफ रख सकते हैं जिससे कि वो सुचारू रूप से अपना काम कर सकें और आप स्वस्थ रह सकें।

तो आइये अब जानते है धनिया के पत्ते से मिलने वाले अन्य स्वास्थ्य लाभ

ये स्वास्थ्य को नुकसान पहुंचाने वाले कोलेस्ट्रॉल को कम करने और स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद कोलेस्ट्रॉल को बढ़ाने में मदद करता है।

पाचन तंत्र के लिए भी ये विशेष रूप से फायदेमंद है। ये लीवर की सक्रियता को बढ़ाने में मदद करता है।

डायबिटीज के मरीजों के लिए भी ये काफी फायदेमंद होता है। ये ब्लड शुगर के लेवल को नियंत्रित करने का काम करता है।

इसमें मिलने वाले फाइटोन्यूट्रिएंट्स रेडिकल डैमेज में सुरक्षा प्रदान करने का काम करते हैं।

इसमें मौजूद विटामिन के अल्जाइमर की बीमारी में फायदेमंद होता है।

धनिया पत्ती में anti-inflammatory गुण पाया जाता है। जिसकी वजह से ये अर्थराइटिस में भी बहुत उपयोगी होता है।

मुंह के घाव को ठीक करने में भी ये काफी कारगर होता है। इसमें मौजूद एंटी-सेप्ट‍िक गुण मुंह के घाव को जल्दी भरने का काम करता है।

नर्वस सिस्टम को सक्रिय बनाए रखने में भी धनिया की पत्ती काफी फायदेमंद होती है।

त्वचा संबंधी कई रोगों जैसे पिंपल्स होने की समस्या, ब्लैकहेड्स और सूखी त्वचा में इसके इस्तेमाल से काफी फायदा होता है।

हरी धनिया को सुबह के वक्त पानी में उबालकर, छान लें। इस पानी को सुबह खाली पेट पीने से पेट की पथरी यूरीन के माध्यम से निकल जाती है।

अगर आपको ये पोस्ट अच्छी लगी तो जन-जागरण के लिए इसे अपने Facebook पर शेयर करें ।

ऐसी ही और बातों के लिए like करें हमारे पेज Such Khu को।

और ऐसे ही अन्य स्वास्थ्य सम्बन्धी जानकारी के लिए निचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें और गुरूप ज्वाइन करें।

जुडें हमारे फेसबुक ग्रुप से क्लिक करें आयुर्वेदिक देशी नुस्खे।


Warning: A non-numeric value encountered in /home/khabarna/public_html/suchkhu.com/wp-content/themes/Newspaper/includes/wp_booster/td_block.php on line 352