क्या आपको भी है पता इन वेज फूड्स (शाकाहारी) का जो नॉन-वेज (मीट) से ज्यादा हेल्दी हैं

1233

मीट में प्रोटीन की मात्रा वेज फूड की तुलना में अधिक होती है। लेकिन इसमें तीन अन्य सबसे जरूरी न्यूट्रिएंट्स आयरन, फाइबर और कैल्शियम बहुत कम होते हैं। इस वजह से एक्सपर्ट कई वेज फूड को मीट से भी अधिक हेल्दी बताते हैं। चीफ डाइटीशियन डॉ. चौहान बता रही हैं ऐसे ही 10 फूड के बारे में जिनमें ये तीनों मीट की तुलना में कहीं अधिक होते हैं।

इस बात में कोई शक नहीं है कि चिकन और मटन में बहुत ज्यादा प्रोटीन होता है। इन चीजों को ज्यादातर उन लोगों को खाने के लिए कहा जाता है जो ज्यादा मेहनत करते हैं जैसे खिलाड़ी, पहलवान, मजदूर, बॉडी बिल्डर, जिम ट्रेनर इत्यादि। लेकिन कुछ लोग चिकन मटन को पोषण के साथ-साथ शौक के लिए भी खाते है।

कुछ लोगों को गलत फहमी हैं कि जितना प्रोटीन चिकन और मटन में होता है उतना किसी भी वेज फूड में नहीं होता है जबकि ऐसा नहीं है। आज हम आपको कुछ ऐसे वेज फूड बारे में बताएंगे जो नॉन-वेज फूड के बराबर होते हैं। और उनमे भारी मात्रा में प्रोटीन, वसा और विटामिन पाया जाता है।

बॉडी के लिए क्यों जरूरी है आयरन, फाइबर और कैल्शियम…?

बॉडी में ब्लड के प्रोडक्शन के लिए आयरन जरूरी होता है। इसकी कमी से एनीमिया की प्रॉब्लम हो सकती है। फाइबर बॉडी में बॉवेल मूवमेंट को बैलेंस करता है। इसकी कमी से कब्ज की प्रॉब्लम हो सकती है। कैल्शियम बॉडी में हॉर्मोन्स को रिलीज करने और सेल फंक्शन को नॉर्मल रखने के लिए जरूरी है।

अगर यह पर्याप्त मात्रा में न मिले तो बॉडी कैल्शियम की कमी की पूर्ति हड्डियों में मौजूद कैल्शियम से करने लगती है। इससे हड्डियां कमजोर होती हैं। शरीर में बिना कैल्शियम के शरीर में और अन्य पौषक तत्व किसी काम के नही होते। क्यूंकि अन्य सभी पोषक तत्व कैल्शियम की उपस्तिथि में ही काम करते है।

तो जानिए उन  वेज फूड्स (foods) के बारे में जिनमें ये तीनों मीट की तुलना में कहीं अधिक होते हैं।

बादाम :-

बादाम में सबसे ज्यादा प्रोटीन और पोषक तत्व पाए जाते हैं। मात्र 100 ग्राम बादाम में 3.7 मिली आयरन, 12 ग्राम फाइबर और 264 मिली कैल्शियम पाया जाता है। इसके साथ-साथ बादाम में वसा विटामिन और मिनिरल भी पाया जाता है।

सोयाबीन :-

जितना प्रोटीन सोयाबीन में पाया जाता है शायद ही उतना चिकन और मटन में पाया जाता हो। आपको शायद ना पता हो लेकिन केवल 100 ग्राम सोयाबीन में 15, 7 मिली आयरन, 9 ग्राम फाइबर और 277मिली कैल्शियम पाया जाता है।

कद्दू के बीज :-

रोजाना कद्दू के बीज खाने से हमे दिल की बीमारी,शुगर,नीद ना आना,तनाव जैसी बीमारी से छुटकारा मिल जाता है। डॉक्टर के अनुसार अगर आप रोजाना 1 चम्मच कद्दू के बीज खाते हैं तो काफी हेल्दी जीवन जी सकते है।

खसखस :-

खसखस बहुत पौष्टिक पदार्थ होता है। इसका इस्तेमाल कई प्रकार की सब्जी में किया जाता है। खसखस में आयरन, फाइबर और कैल्शियम की भारी मात्रा होती है। खसखस फाइबर का भी बहुत बड़ा स्त्रोत है।खसखस खा प्रयोग सबसे ज्यादा लोग सर्दियों में करते हैं।

अलसी :-

अलसी बहुत ही पौष्टिक होता है। अलसी में लिगनेंस एंटीऑक्सीडेंट्स होते हैं जो हमें कैंसर डायबिटीज और हार्ट प्रॉब्लम जैसी बीमारियों से बचाते हैं। अलसी में आयरन, फाइबर, कैल्शियम प्रोटीन और विटामिन B6 बड़ी मात्रा में पाया जाता है। इसके नियमित सेवन करने से कई प्रकार की बीमारियों से बचा जा सकता है।

ओट्स :-

100 ग्राम ओट्स में 4.7 mg आयरन, 11 ग्राम फाइबरस और 54 mg कैल्शियम पाया जाता है।

काबुली चने :-

100 ग्राम काबुली चने में 6.2 आयरन, 17 gm फाइबर और 105 mg कैल्शियम पाया जाता है।

लहसून :-

100 ग्राम लहसून में 1.7 mg आयरन, 2.1 ग्राम फाइबर और 181 mg कैल्शियम होता है।

काजू :-

100 ग्राम काजू में 6.7 mg आयरन, 3.3 ग्राम फाइबर और 37 mg कैल्शियम होता है।

अगर आपको ये पोस्ट अच्छी लगी तो जन-जागरण के लिए इसे अपने Facebook पर शेयर करें ।

ऐसी ही और बातों के लिए like करें हमारे पेज Such Khu को।

और ऐसे ही अन्य स्वास्थ्य सम्बन्धी जानकारी के लिए निचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें और गुरूप ज्वाइन करें।

जुडें हमारे फेसबुक ग्रुप से क्लिक करें आयुर्वेदिक देशी नुस्खे।


Warning: A non-numeric value encountered in /home/khabarna/public_html/suchkhu.com/wp-content/themes/Newspaper/includes/wp_booster/td_block.php on line 352