जानिए कैसे और कितना हेल्दी बनाता है लिवर और स्किन को, तिल का तेल

226

तिल के तेल में ओमेगा -6 फैटी एसिड, फ्लेवोनोइड फेनोलिक एंटी-ऑक्सीडेंट, विटामिन और डाइट्री फाइबर भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं जो स्वास्थ्य के लिए बेहद फायदेमंद होते हैं। तिल के तेल का इस्तेमाल कई सालों से होता आ रहा है। दादी-नानी के नुस्खों में भी हम सेसमे ऑइल के इस्तेमाल के बारे में सुनते आ रहे हैं। आइए जानते हैं यह हमारी सेहत के लिए कितना उपयोगी है।

ब्लड प्रेशर को करता है नियंत्रित

तिल के तेल में मोनो और पॉली सैचुरेटेड फैटी एसिड होते हैं जो गुड कोलेस्ट्रॉल को बढ़ाते हैं और बैड कोलेस्ट्रॉल को घटाते हैं। जिससे बॉडी में कोलेस्ट्रॉल का लेवल मेंटेन रहता है जो ब्लड प्रेशर को कम करने और नियंत्रित रखने में मदद करता है।

इंफेक्शन से बचाता है

सेसमे ऑइल में 2 महत्वपूर्ण एंटीऑक्सीडेंट सेसेमोल और सिसेमिन पाए जाते हैं जो बैक्टीरियल और वायरल इंफेक्शन से लड़ने में कारगर होते हैं। अपने एंटी- ऑक्सीडेंट गुणों के कारण तिल के तेल का इस्तेमाल सर्दी या जुकाम में किया जाता है।

लिवर को रखता है हेल्दी

तिल का तेल अल्कोहल के कारण लीवर को पहुंचने वाले नुकसान से भी बचाता है। यह लीवर के टॉक्सिन्स को बाहर निकलता है साथ ही हैंग ओवर को भी कम करता है। इसलिए तिल के तेल का इस्तेमाल लीवर के स्वास्थ्य के लिए भी अच्छा है।

डायबिटीज के मरीजों के लिए फायदेमंद

डायबिटीज से परेशान लोगों के लिए भी सेसमे ऑइल यानी कि तिल का तेल काफी फायदेमंद है। 2011 में एक अध्ययन में यह बात सामने आई कि जिन लोगों को टाइप 2 डायबिटीज है उनके लिए यह काफी उपयोगी है।

स्किन को बनाता है ग्लोइंग

तिल के तेल में विटामिन ई और विटामिन बी होता है जो स्किन के लिए काफी अच्छा है। विटामिन ई स्किन में मॉइश्चर को लॉक करने में मदद करता है और स्किन के स्पॉट्स को भी कम करता है। तिल के तेल के नियमित इस्तेमाल से त्वचा हेल्दी और ग्लोइंग होती है। साथ ही ये स्किन के इंफेक्शन जैसे ड्राईनेस की वजह से रेडनेस आ जाना या इचिंग को भी ठीक करने में मदद करता है।

ऑयल पुलिंग में उपयोगी

ऑइल पुलिंग में ऑइल को मुंह में रखकर थोड़ी देर बाद कुल्ला करते हैं। इस प्रक्रिया में सेसमे ऑइल इस्तेमाल करने से दांत चमकदार बनते हैं। बैक्टीरिया से प्रोटेक्शन मिलती है साथ ही दांतो का मैल भी साफ हो जाता है।

बालों को टूटने से बचाता है

पुराने समय से सेसमे ऑइल का इस्तेमाल बालों को मजबूत बनाने के लिए किया जाता है। एक अध्ययन से यह पता चला है कि सेसमे ऑइल में पाया जाने वाला बायोएक्टिव कंपाउंड ( ब्लैक सेसमे ऑइल ) बालों की खूबसूरती और नेचुरल हेयर कलर को बरकरार रखता है और साथ ही बालों को टूटने से भी बचाता है।

तिल का तेल हमारे लिए कितना फायदेमंद है यह तो अब तक आप समझ ही गए होंगे। तिल का तेल लीवर और हार्ट को हेल्दी रखने के साथ -साथ बालों और स्किन के लिए भी काफी फायदेमंद है।

अगर आपको ये पोस्ट अच्छी लगी तो जन-जागरण के लिए इसे अपने Facebook पर शेयर करें ।

ऐसी ही और बातों के लिए like करें हमारे पेज Such Khu को।

और ऐसे ही अन्य स्वास्थ्य सम्बन्धी जानकारी के लिए निचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें और गुरूप ज्वाइन करें।

जुडें हमारे फेसबुक ग्रुप से क्लिक करें आयुर्वेदिक देशी नुस्खे।


Warning: A non-numeric value encountered in /home/khabarna/public_html/suchkhu.com/wp-content/themes/Newspaper/includes/wp_booster/td_block.php on line 352