आपके पास भी अगर प्लास्टिक वाला या लेमिनेटेड आधार कार्ड है तो पहले इसे जरुर पढ़ें

587

अगर आपके पास आधार कार्ड है तब भी आप बुरे चक्कर में फंस सकते हैं, बशर्ते वह प्लास्टिक या लेमिनेटेड न हो। यानी अगर आपके प्लास्टिक या लेमिनेटेड आधार कार्ड है, तो आपको यह खबर जरूर पढ़ना चाहिए।

पहले हम यह आपको बता दे की आधार कार्ड है क्या ?

भारत सरकार की ओर से यूनिक आइडेंटिफिकेशन अथॉरिटी ने सभी भारतीय निवासी (विदेशी नागरिक सहित) को आधार कार्ड जारी करना शुरू कर दिया है! यह एक कंप्यूटर से आटोमेटिक दी गयी अद्वितीय संख्या है जो किसी जाति, पंथ, धर्म या भूगोल पर आधारित नहीं। आधार कार्ड आवेदनकर्ता को दिया गया 14 अंकों का अद्वितीय पहचान पत्र है, जो जीवनभर उस व्यक्ति का ही रहेगा।

हर व्यक्ति को केवल  ही अद्वितीय आधार कार्ड क्रमांक दिया जाएगा जो उस व्यक्ति के जीवनभर के लिए तय रहेगा। आधार कार्ड सभी भारतीय निवासी के लिए उपलब्ध हैं! यह अकेला डॉक्यूमेंट “पहचान प्रमाण” और “पते का प्रमाण” का काम करेगा।

दरअसल, भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (यूआईडीएआई) ने मंगलवार को जनता को आगाह किया कि वह प्लास्टिक वाले या लेमिनेटेड आधार स्मार्ट कार्ड के चक्कर में नहीं पड़ें, क्योंकि इनकी अनाधिकृत छपाई से क्यूआर कोड काम करना बंद कर सकता है या उनकी सहमति के बिना ही व्यक्तिगत जानकारी सार्वजनिक हो सकती है।

आधार बनाने वाली प्राधिकरण का कहना है कि आधार पत्र या इसका कटा हुआ भाग, सामान्य कागज पर आधार का इंटरनेट से निकाला गया संस्करण या एम आधार पूरी तरह वैध है। प्राधिकरण का कहना है कि आधार स्मार्ट कार्ड की अनाधिकृत छपाई से उपयोक्ता को 50 से 300 रुपये की लागत आएगी जो कि पूरी अनावश्यक है।

प्राधिकरण ने एक बयान में कहा है, ‘प्लास्टिक या पीवीसी आधार स्मार्ट कार्ड का आमतौर पर क्यूआर कोड के रूप में इस्तेमाल नहीं किया जा सकता क्योंकि अनाधिकृत छपाई के दौरान यह कोर्ड काम करना बंद कर देता है।’ इसके अनुसार इसके साथ ही इस प्रक्रिया में उपयेक्ता की व्यक्तिगत जानकारी उसकी मंजूरी के बिना ही सार्वजनिक की जा सकती है।

टिप्पणियां यूएडीएआई के सीईओ अजय भूषण पांडे ने कहा कि प्लास्टिक स्मार्ट कार्ड पूरी तरह अनावश्यक व बर्बादी है क्योंकि डाउनलोड कर सामान्य कागज पर प्रकाशित आधार कार्ड या ‘एम आधार’ पूरी तरह वैध है।

अगर आपको ये पोस्ट अच्छी लगी तो जन-जागरण के लिए इसे अपने Facebook पर शेयर करें ।

ऐसी ही और बातों के लिए like करें हमारे पेज Such Khu को।

और ऐसे ही अन्य स्वास्थ्य सम्बन्धी जानकारी के लिए निचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें और गुरूप ज्वाइन करें।

जुडें हमारे फेसबुक ग्रुप से क्लिक करें आयुर्वेदिक देशी नुस्खे।