जानिये खजूर खाने के ये 12 बड़े फायदे, आसपास भी नहीं फटकेंगी बीमारियां

1981

खजूर के पेड़ों की खेती सदियों से की जा रही है। खासतौर से मध्‍य पूर्व के देशों में तो खजूर हमेशा से भोजन का अहम हिस्‍सा रहा है। खजूर की खासियत यह है कि इसे आप फ्रेश भी खा सकते हैं और सुखाकर भी इस्‍तेमाल कर सकते हैं। एक खजूर की लंबाई तीन से सात सेंटीमीटर तक हो सकती है। जहां पके हुए खजूर का रंग गहरे पीले और लाल रंग का होता है वही सूखा खजूर ज्‍यादातर भूरे रंग का होता है।

मिठास के आधार पर खजूर को तीन हिस्‍सों में बांटा जाता है- नरम खजूर, हल्‍का सूखा खजूर और पूरी तरह से सूखा हुआ खजूर। हालांकि खजूर के ये तीनों प्रकार लगभग एक जैसे ही होते हैं लेकिन स्‍वाद और आकार में थोड़ा बहुत फर्क हो सकता है।

खजूर एक ऐसा फल है जो आपकी सेहत के लिए बहुत ही अच्‍छा है। इसमें ढेरों पोषक तत्‍व पाए जाते हैं और माना जाता है कि ये कई बीमार‍ियों को दूर कर सकता है। यहां पर हम आपको खजूर के ऐसे ही कुछ चमत्‍कारी फायदों के बारे में बता रहे हैं :-

डाइजेशन सुधारे, भगाए कब्‍ज :-

खजूर में भरपूर मात्रा में फाइबर होता है जो आपके पाचन तंत्र की सफाई करने के काम आता है। अगर पाचन ठीक रहेगा तो कब्‍ज की शिकायत भी नहीं होगी।

ब्लड प्रेशर करे कंट्रोल :-

मैग्नीरशीयम ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करने का भी काम करता है। खजूर में मौजूद पोटैशियम अधिक ब्लआड प्रेशर को कम करने का काम करता है।

नहीं आएगा हार्ट अटैक :-

अमेरिकन जर्नल ऑफ क्लीनीकल न्यू‍ट्रिश‍न की एक रिसर्च के मुताबिक अगर कोई व्येक्ति एक दिन में 100 मिलीग्राम मैग्नीश‍यम ले तो हार्ट अटैक का खतरा 9 फीसदी तक कम हो सकता है।

दिल बनाए सेहतमंद :-

खजूर में मौजूद फाइबर आपके दिल को भी मजबूत और सेहतमंद बनाने का काम करते हैं। खजूर में पोटैश‍यम भी होता है जो हार्ट अटैक के खतरे को काफी हद तक टाल सकता है।

ज्‍वलनरोधी गुणों से भरपूर :-

खजूर में भरपूर मात्रा में मैग्‍नीशीयम पाया जाता है। मैग्‍नीश‍यम में ज्‍वलनरोधी गुण होता है, जो हार्ट की बीमारी (खून का जमना आदि), गठीया और अल्‍जाइमर जैसे रोगों को आपसे दूर रखता है।

एनीमिया में भी कारगर :-

रेड ब्‍लड सेल्‍स और आयरन की कमी के चलते कई लोगों को एनीमिया की श‍िकायत हो जाती है। एनीमिया यानी कि शरीर में खून की कमी। खजूर में भरपूर मात्रा में आयरन पाया जाता है। ऐसे में यह एनिम‍िया के उपचार का रामबाण इलाज है। लगातार खजूर का सेवन करने से शरीर में आयरन की कमी पूरी हो जाती है।

नर्वस सिस्‍टम की देखभाल :-

खजूर में वो सभी विटामिन होते हैं जो नर्वस सिस्‍टम के लिए जरूरी हैं। ये विटामिन नर्वस सिस्‍टम की कार्य प्रणाली को दुरुस्‍त रखते हैं। यही नहीं इसमें मौजूद पोटैश‍यम दिमाग को अलर्ट और हेल्‍दी रखते हैं।

नहीं लगेंगे दांतों में कीड़े :-

खजूर में Fluorine पाया जाता है। यह ऐसा केमिकल है जो दांतों से प्लाकक हटाकर कैविटी नहीं होने देता। यही नहीं यह टूथ इनेमल यानी कि दंतवल्क  को भी मजबूती देता है।

स्किून और बालों के लिए गुणकारी :-

विटामिन C से भरपूर खजूर त्वरचा के लचीलेपन को बरकरार रखकर उसे कोमल बनाता है। खजूर में मौजूद विटामिन B5 स्ट्रे च मार्क्सर हटाने में भी कारगर है। यही नहीं यह बालों को भी स्वकस्थू बनाए रखता है। विटामिन B5 की कमी से बाल कमजोर होकर झड़ने लगते हैं और दोमुंहे भी हो जाते हैं।

प्रेग्‍नेंट महिलाओं के लिये फायदेमंद :-

आयरन से भरपूर खजूर मां और होने वाले बच्‍चे दोनों के लिए बेहद उपयोगी है। खजूर में मौजूद पोषक तत्‍व यूट्रेस यानी कि गर्भाशय की मांसपेश‍ियों को मजबूती देने का काम भी करते हैं। खजूर मां के दूध को भी जरूरी पोषक तत्‍व मुहैया कराता है। साथ ही बच्‍चे की डिलीवरी के बाद होने वाली ब्‍लीडिंग की भरपाई भी करता है।

बढ़ाए सेक्‍स पावर :-

कुछ शोधों में इस बात का खुलासा हुआ है कि खजूर सेक्‍स पावर बढ़ाने में भी कारगर है। खजूर में Estradiol और Flavonoid पाए जाते हैं जो स्‍पर्म काउंट बढ़ान में मदद करते हैं।

रतौंधी का इलाज :-

रोजाना खजूर खाने से न सिर्फ आंखें स्‍वस्‍थ रहती हैं, बल्‍कि यह रतौंधी के इलाज में भी कारगर है। रतौंधी से छुटकारा पाने के लिए खजूर का पेस्‍ट बनाकर उसे आंखों के चारों ओर लगाने से फायदा म‍िलेगा। आप चाहें तो खजूर खाकर भी रतौंधी से मुक्ति पा सकते हैं।

अधिक जानकारी के लिए देखे विडियो :-

अगर आपको ये पोस्ट अच्छी लगी तो जन-जागरण के लिए इसे अपने Facebook पर शेयर करें

ऐसी ही और बातों के लिए like करें हमारे पेज Such Khu को।

और ऐसे ही अन्य स्वास्थ्य सम्बन्धी जानकारी के लिए निचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें और गुरूप ज्वाइन करें।

जुडें हमारे फेसबुक ग्रुप से क्लिक करें आयुर्वेदिक देशी नुस्खे।