जानिये ! तेल कीमतों में आग भड़कना जारी, कीमतें अब तक की सबसे ज्यादा

640

कर्नाटक चुनाव खत्म होने के बाद तेल कंपनियां पेट्रोल-डीजल के दाम लगातार बढ़ाती जा रही हैं। रविवार को ग्वालियर में दाम रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच गए। यहां पेट्रोल 34 (81.66 रु.) और डीजल 28 पैसे (70.96 रु.) प्रति लीटर महंगा बिका।

देश में तेल की कीमतों में लगातार उछाल जारी है। आज लगातार 8वें  ‌दिन पेट्रोल और डीजल की कीमतें बढ़ गई हैं। आज (सोमवार) को पेट्रोल की कीमत में 33-34 पैसे और डीजल की कीमत में 25-27 पैसे की वृद्धि हुई। इसके साथ ही दिल्ली में पेट्रोल 76.57 रुपये प्रति लीटर और डीजल 67.82 रुपये प्रति लीटर की रिकॉर्ड ऊंचाई पर पहुंच गया। रविवार को ही दिल्ली में पेट्रोल की कीमतों ने सितंबर 2013 के रिकॉर्ड स्तर को पार कर लिया था। डीजल तो काफी पहले ही सारे रिकॉर्ड तोड़ चुका है।

देश में पेट्रोल मुंबई में सबसे महंगा है। इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन के मुताबिक सोमवार को दिल्ली में पेट्रोल 76.57 रुपये प्रति लीटर और डीजल 67.82 रुपये प्रति लीटर बेचा जाएगा। कोलकाता में पेट्रोल 79.24 रुपये लीटर, मुंबई में 84.40 रुपये प्रति लीटर और चेन्नई में 79.47 रुपये प्रति लीटर बिक रहा है।

सार्वजनिक पेट्रोलियम कंपनियों ने अंतरराष्ट्रीय बाजार में तेल की कीमतों में चार हफ्ते से जारी तेजी का बोझ ग्राहकों पर डालने का फैसला किया है। हालांकि, कर्नाटक चुनाव से पहले पेट्रोल-डीजल की कीमतों में लगातार तीन हफ्ते तक कोई बदलाव नहीं किया गया था।

पिछले साल जून से पेट्रोल-डीजल के दाम रोज तय हो रहे हैं। तब से एक दिन में यह सबसे अधिक बढ़ोतरी है। यदि कीमत बढ़ोतरी के पिछले सात दिन के आंकड़े देखें तो 14 मई को ग्वालियर में पेट्रोल 80.19 रु. प्रति लीटर बिका था। यानी 20 मई तक इसके दाम 1.47 रु. बढ़ गए। वहीं डीजल 69.45 रु. लीटर था, जो अब 1.51 रु. महंगा हो चुका है। डीजल महंगा होने का सीधा असर महंगाई पर पड़ेगा। घरेलू उपयोग की वस्तुएं महंगी होने की संभावना है।

क्रूड ऑयल… दाम 2013 से भी कम फिर भी कीमत ज्यादा :-

रविवार को तेल कंपनियों ने पेट्रोल 33 और डीजल 26 पैसे महंगा किया। दिल्ली में पेट्रोल 76.24 रुपए का हो गया। पिछला रिकॉर्ड 14 सितंबर 2013 का था, तब दाम 76.06 रु. थे। हालांकि, तब क्रूड की कीमत 112 डॉलर/बैरल थी, अब 80 डॉलर के आसपास है। फिर भी पेट्रोल-डीजल के दाम सबसे ज्यादा हैं।

सरकार चुप… एक्साइज ड्यूटी नौ बार बढ़ाई, एक बार घटाई :-

नवंबर 2014 से जनवरी 2016 के दौरान जब क्रूड ऑयल के दाम घट रहे थे, तब सरकार ने नौ बार में पेट्रोल पर 11.77 रु. और डीजल पर 13.47 रुपए एक्साइज ड्यूटी बढ़ाई थी। क्रूड महंगा होने पर सिर्फ एक बार अक्टूबर 2017 में ड्यूटी 2 रुपए प्रति लीटर घटाई। रविवार को पेट्रोलियम मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान ने संकेत दिए कि पेट्रोल-डीजल पर फिलहाल ड्यूटी कम नहीं होगी।

देश में सबसे महंगा परभणी-हैदराबाद में :-

पेट्रोल :- परभणी (महाराष्ट्र) में सबसे महंगा 85.77 रुपए और पंजिम में सबसे सस्ता 70.26 रुपए लीटर है।

डीजल :- हैदराबाद में सबसे महंगा 73.45 रुपए और पोर्ट ब्लेयर में सबसे सस्ता 63.35 रुपए लीटर है।

तब 19 दिन तक नहीं बढ़ाए गए थे दाम :-

कर्नाटक चुनाव के दौरान 24 अप्रैल के बाद 19 दिनों तक कंपनियों ने दाम नहीं बढ़ाए थे। ब्रोकरेज फर्म कोटक इक्विटीज ने गुरुवार को एक रिपोर्ट में कहा था कि तेल कंपनियां अपना मार्जिन चुनाव से पहले के स्तर पर ले गईं तो पेट्रोल 4 से 4.55 और डीजल 3.5 से 4 रु. महंगा हो जाएगा।