जानिए कान के इंफेक्शन के सुरक्षित और सही घरेलू उपचार

1024

एक शोध में यह पता लगाया गया है कि छोटे बच्चों से लेकर बड़े बूढ़ों तक हर कोई कान के इंफेक्शन से परेशान रहता है। कान में होने वाले इंफेक्शन के पीछे वायरल इंफेक्शन, वैक्स का जमा होना, बैक्टीरियल इंफेक्शन या एलर्जी कुछ भी हो सकता है।

पुराने समय में जब किसी भी तरह की दवा या पैनकिलर नहीं हुआ करता था, तब लोग कुछ घरेलू उपचार करके इस समस्या का समाधान करते थे।

आइए आपको कुछ घरेलू उपचारों के बारे में बताते हैं जिनकी मदद से आप अपने कान के इंफेक्शन को दूर कर सकती हैं।

कैस्टर ऑयल

कैस्टर ऑयल का इस्तेमाल कर आप अपने स्वास्थ्य से लेकर त्वचा और बालों तक हर चीज का ख्याल रख सकती हैं। इसमें एंटीबैक्टीरियल और एंटीफंगल गुण होते हैं जो कि कान के इंफेक्शन से छुटकारा दिलाने में मदद करता है।

इसके लिए आप कैस्टर ऑयल को गुनगुना कर लें।

फिर इसे अपने कानों में डाल ले।।

इसके बाद आप इस तेल को अपने कान में रात को सोने से पहले डाल लें।

अपने कान में इसके बाद रूई लगा लें।

अगली सुबह अपने कान को कॉटन बड से साफ कर लें।

इस उपचार का इस्तेमाल सप्ताह में एक बार करें, इससे आपका कान साफ हो जाएगा।

प्याज का रस

प्याज में अद्भूत गुण होते हैं जो कि हमारे कान में हुए सूजन को कम करके इंफेक्शन को दूर करने में मदद करता है।

प्याज के रस को माइक्रोवेव में गर्म कर लें।

इसके बाद आप इसके ठंड़े होने तक का इंतजार करें और इसे अपने कान में डाल लें।

एल्कोहल रब करना

एल्कोहल रब करने से हमारे कान का इंफेक्शन दूर हो जाता है। इससे कान में नमी भी बनी रहती है।

कान में 3 से 4 बूंदे एल्कोहल की डाल लें, इससे आपको कान के इंफेक्शन से छुटकारा मिल जाएगा। एल्कोहल रब करने के बाद आप कॉटन से अपने कान को कवर कर लें।

आप इस उपचार का इस्तेमाल दिन में तीन बार कर सकते हैं।

एप्पल साइडर विनेगर

एप्पल साइडर विनेगर में एंटीफंगल और एंटी इंफेक्टिव गुण होते हैं जो कि हमारे कान के इंफेक्शन को दूर करने में मदद करता है।

आप पानी में एप्पल साइडर विनेगर बराबर मात्रा में मिला लें।

इसके बाद एक कॉटन बॉल को इस सोल्यूशन में डूबाकर इसे अपने कान में डाल लें। रूई को इस दौरान बाहर ही रखें।

अब रूई की मदद से अपने कान को ढक लें।

5 से 7 मिनट तक इंतजार करने के बाद अपने कान को बाहर से साफ कर लें।

इस उपचार का इस्तेमाल आप दिन में दो से तीन बार कर सकते हैं।

नारियल का तेल

नारियल तेल में एंटीबैक्टीरियल, एंटी इंफ्लामेटोरी और एंटीमाइक्रोबल गुण होते हैं जो कि कान के इंफेक्शन का उपचार करने में मदद करता है।

आप एक ड्रॉपर का इस्तेमाल कर नारियल के तेल की 3 से 4 बूंदे अपने कान में डाल लें। इसके बाद कान को कॉटन से कवर कर लें।

इसके बाद इस कॉटन को 15 से 20 मिनट बाद कान से हटा लें।

बेहतर परिणाम पाने के लिए आप इस उपचार का इस्तेमाल दिन में दो बार कर सकते हैं।

नमक

नमक नमी और सूजन को दूर करने का बेहतरीन उपचार होता है। यह आपके कानों की सूजन को भी कम करता है।

इसके लिए आप एक कप में नमक ले लें और इसे पैन में गर्म कर लें।

अब आप एक मोजे में इस नमक को रखकर इसे दोनों तरफ से बांध लें।

इसके बाद अपने सिर को टेढ़ा करके आप इस गर्म मोजे से अपने कान की सूजन को दूर कर सकती हैं।

आप इस उपचार को कभी भी कर सकते हैं।

एशेंशियल ऑयल

एशेंशियल ऑयल में होने वाले एंटीबैक्टीरियल और एंटीफंगल गुण हमारे कान के इंफेक्शन को दूर करने में मदद करते हैं।

आप लेवेंडर ऑयल की 2 से 3 बूंदे रूई में ले लें और फिर इसे अपने कान के बाहरी तरफ रख ले।। इससे आपके कान से ऑयल बाहर नहीं निकलेगा।

अब आप अपनी हथेली में 1 से 2 बूंदे लेमन एशेंशियल और ½ चम्मच नारियल ऑयल को मिला लें।

अपनी उंगलियों की मदद से आप अपने कान की मसाज कर लें।

आपको कुछ ही समय में आराम मिल जाएगा।

ये विडियो देखिये >>

सावधानी* यदि आपको संदेह है कि आपका कान पका हुआ है तो बेहतर यही होगा कि आप इन उपचारों का इस्तेमाल करने से पहले डॉक्टर से संपर्क करें।

अगर आपको ये पोस्ट अच्छी लगी तो जन-जागरण के लिए इसे अपने Facebook पर शेयर करें ।

ऐसी ही और बातों के लिए like करें हमारे पेज Such Khu को।

और ऐसे ही अन्य स्वास्थ्य सम्बन्धी जानकारी के लिए निचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें और गुरूप ज्वाइन करें।

जुडें हमारे फेसबुक ग्रुप से क्लिक करें आयुर्वेदिक देशी नुस्खे।


Warning: A non-numeric value encountered in /home/khabarna/public_html/suchkhu.com/wp-content/themes/Newspaper/includes/wp_booster/td_block.php on line 352