सूखी खांसी, गले की खराश और बंद नाक से छुटकारा दिलाती है 1 इलायची, जानिये कैसे

1266

बदलते मौसम में लोग गले में खराश या सूखी खांसी और बंद नाक से परेशान हैं। हालांकि इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि ये बीमारियां कितनी बार होती हैं, खाना निगलने में परेशानी, बार-बार छींक आना, सिर में दर्द आदि समस्‍याएं चलती रहती हैं, लेकिन इसका समाधान जरूरी है।

भारतीय रसोई घरों में आमतौर पर उपलब्ध कुछ सामग्री लंबे समय तक चलने वाली राहत लाने के लिए जानी जाती है। इनमें से इलायची है जो गले में दर्द और खराश को कम करने में मदद के लिए जानी जाती है। इस लेख में हम आपको बता रहे हैं इलायची को किस प्रकार से इन समस्‍याओं के समाधान के तौर पर प्रयोग कर सकते हैं।

सर्दी और खांसी में इलायची कैसे है मददगार :-

दरअसल, इलाएची से निकलने वाला तेल एक उपयोगी उत्तेजक है, यह एंटीसेप्टिक होता है जो पाचन तंत्र को सही रखने में मदद करता है गले, सर्दी और खांसी को और अधिक ठीक करता है। गले की खराश और सर्दी का मुख्‍य कारण आंतों में जमा विषाक्‍त पदार्थ है, इससे इम्‍यून सिस्‍टम प्रभावित होता है।

इसलिए इलायची का सेवन पाचन समस्‍याओं को समाप्‍त करने के लिए किया जाता है। इलाइची में कई पौधे व्युत्पन्न अल्कोलोइड होते हैं जो उनके शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट और स्वास्थ्य को बढ़ावा देने वाले गुणों के लिए जाने जाते हैं। इसके इंटी-इंफ्लामेट्री गुण दर्द और सूजन को कम करते हैं, खासकर म्‍यूकस मेंबरेन या श्लेष्म झिल्ली के अलवा मुंह और गले की सूजन को खत्‍म करते हैं।

कफ और खांसी के लिए घरेलू नुस्‍खा :-

एक चुटकी इलायची पाउडर, एक चुटकी सेंधा नमक, एक चम्‍मच देसी घी और आधा चम्‍मच शहद को लेकर अच्‍छी तरह से मिक्‍स कर लीजिए। इसके बाद इसका सेवन कर सकते हैं। यह मिश्रण खांसी से तत्काल राहत प्रदान करने के लिए जाना जाता है।

सूखी खांसी के लिए घरेलू उपचार :-

आयुर्वेदिक विशेषज्ञ के अनुसार हरी इलायची और लौंग का मिश्रण अच्‍छा विकल्‍प हो सकता है। यह आपके फेफड़ों को प्रभावित करने वाले प्रदूषण और धूल के कणों के कारण गले में होने वाली जलन से बचाता है। ये दोनों अवयव एंटीऑक्सीडेंट युक्‍त होते हैं, जो प्रदूषण के जहरीले प्रभाव को निष्क्रिय करते हैं।

गले की खराश के लिए घरेलू उपचार :-

पानी में एक इलायची को डाल दीजिए और पानी को गुनगुना कर लीजिए। इससे सुबह और शाम गरारा करने से गले की खराश दूर हो जाती है।

खांसी और जकड़न में घरेलू उपचार :-

इलायची और मिश्री को 3:1 अनुपात में लें और इनका पाउडर बना लें। प्रभावी परिणामों को देखने के लिए दिन में कम से कम दो से तीन बार पानी के साथ इस मिश्रण को 1-1 चम्‍मच लीजिए।

जुकाम के लिए घरेलू नुस्‍खे :-

यदि आप सर्दी और जुकाम से परेशान हैं तो आपके लिए एक कप गर्म चाय इलायची वाली फायदेमंद साबित हो सकती है। इलायची वाली चाय में अवरुद्ध श्लेष्म झिल्ली ठीक करती है। सर्दी और जुकाम ठीक करने में मदद मिलती है।

अधिक जानकारी के लिए देखे विडियो :-

अगर आपको ये पोस्ट अच्छी लगी तो जन-जागरण के लिए इसे अपने Facebook पर शेयर करें

ऐसी ही और बातों के लिए like करें हमारे पेज Such Khu को।

और ऐसे ही अन्य स्वास्थ्य सम्बन्धी जानकारी के लिए निचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें और गुरूप ज्वाइन करें।

जुडें हमारे फेसबुक ग्रुप से क्लिक करें आयुर्वेदिक देशी नुस्खे।