जानिए नींबू पानी पीने का सही तरीका व् समय और इसके फायदे

2926

दुनिया भर में नींबू स्वास्थ्य लाभों के लिए जाना जाता है। नींबू वास्तव में रिबोफाल्विन, थियामिन, मैग्नीशियम, आयरन, पेंटोथेनिक एसिड, पोटेशियम, विटामिन बी 6 इत्यादि जैसे पोषक तत्वों का एक आदर्श स्रोत हैं। जब नींबू और पानी का संयोजन होता है, तो यह स्वादिष्ट और ताज़ा पेय के रूप में फायदेमंद होता है।

नींबू पानी पीने का अभ्यास लोगों के बीच काफी आम है, क्योंकि यह न केवल पोषक तत्वों में समृद्ध है, बल्कि इसे बनाना भी बहुत आसान है। मगर कई संभावना हो सकती है, जहाँ आप इसे गलत तरीके से पी रहे हैं और नींबू के कई स्वास्थ्य लाभों से दूर हो जाते हैं।

यह जरूरी है कि हमारे दिन की शुरुआत सही हो। रोज सुबह खाली पेट गुनगुना नींबू पानी पीना सेहत के लिए फायदेमंद है, इससे न सिर्फ आपका मोटापा कम होगा बल्कि आप कई बीमारियों से भी दूर रहेंगे। अगर आप सुबह की शुरुआत नींबू पानी पिने के साथ करते है, तो आपको कुछ बातों को ध्यान में रखना जरूरी है। नींबू में कई क्वालिटीज होती हैं लेकिन ज्यादा मात्रा में नींबू पानी पीना नुकसान भी कर सकता है। आज हम आपको बता रहे हैं कि नींबू पानी पीते समय किन-किन बातों को ध्यान में रखना चाहिए।

नींबू पानी पीने का सामान्य अभ्यास

लोग अपने सभी लाभों का आनंद लेने के लिए नियमित रूप से नींबू पानी पीना चुनते हैं। अक्सर, लोग नीम्बू पानी पीने के सही तरीका नहीं समझ पाते है। नतीजतन, वे नींबू द्वारा होने वाले कई स्वास्थ्य लाभों से दूर हो जाते हैं।

अधिकांश लोग बस नींबू को काटते हैं, रस को निचोड़ते हैं और फिर नींबू के छिलके फेंक देते हैं। यह वही तरीका है, जहां लोग नींबू पानी पीने के वास्तविक फायदे से चूक जाते है। क्योंकि यह नींबू के छिलके हैं, जो ज्यादातर पोषक तत्व समृद्ध हिस्सों होते हैं।

उचित तरीका जिसमें नींबू पानी पीना चाहिए-

नींबू पानी पीना का अच्छा तरीका है, इसे पील्स के साथ जोड़कर पीए। ताजा और पर्याप्त रसदार नीम्बू ज्यादा फायदेमंद होता है, इसीलिए इस बात को सुनिश्चित कर ले। उन्हें ठीक से धोएं और फिर उन्हें मोटी या पतली स्लाइस में काट ले। फिर, ताजा कटा हुआ नींबू या तो गर्म या ठंडे पानी में निचोड़ें ले। इस बात का ख्याल रखे की नीम्बू के छिलके को साथ में ही मिलाए।

इसके बजाय, स्क्वैश किए गए नींबू के छिलके को पीस ले और नीम्बू के पानी में मिला दे, जिससे नींबू के सभी पौष्टिक तत्त्व पानी में मिल और एक स्वस्थ नीम्बू पानी का गिलास सही तरीके से पी सकते है। कोई भी कटा हुआ स्लाइस आप ेल अलग कप में रख सकते है, जिसे आप बाद में इसका इस्तेमाल नीम्बू पानी के लिए कर सकते है।

नींबू के शारीरिक फायदे:-

क्या आप अच्छी और साफ स्किन चाहते हैं? अगर हां, तो निशान वाली जगह पर नींबू का रस लगाएं।  नींबू का रस एक प्राकृतिक अमल है, जो स्ट्रेच मार्क्स को हल्का करता है। स्किन पर निशान वाली जगह पर नींबू के रस को दस मिनट के लिए लगाएं और फिर धो लें। साफ और चमकती हुई स्किन के लिए एक दिन में 8 से 10 गिलास पानी जरूर पिएं। ऐसा करने से स्किन पर मौजूद स्ट्रेच मार्क्स धीरे-धीरे दूर हो जाएंगे।

हैजे को दूर करना, पानी की कमी को दूर करना,ब्लड प्रेशर सामान्य करना, मिर्गी के दौरों को रोकना में भी नींबू उपयोगी है।

नींबू कैंसर की कोशिकाओं के विकास को रोकने में असर डाल सकता है । इसके अलावा गुर्दे या किडनी की पथरी को बनने से रोकने में भी इसे कारगर पाया गया है।

दिन भर तरोताजा रहने और स्फूर्ति बनाए रखने के लिए एक गिलास गुनगुने पानी में एक नींबू का रस व एक चम्मच शहद मिलाकर पीना चाहिए। और यह करने से कभी भी मोटापा नहीं बढ़ता।

एक बाल्टी पानी में एक नीबू के रस को मिलाकर गर्मियों में नहाने से दिनभर ताजगी बनी रहती है।

गर्मी के मौसम में हैजे से बचने के लिए नीबू को प्याज व पुदीने के साथ मिलाकर सेवन करना चाहिए।

लू से बचाव के लिए नीबू को काले नमक वाले पानी में मिलाकर पीने से दोपहर में बाहर रहने पर भी लू नहीं लगती।

आपको बहुत देर से हिचकी आ रही है, तो नींबू के रस में 2 छोटे चम्मच काला नमक ,शहद का 1 छोटा चम्मच मिलाकर पीयें।

अगर आपकी त्वचा तैलीय है, तो नींबू के रस मे बराबर मात्रा मे पानी मिलाकर चेहरा साफ़ करें।

नींबू बालों के लिए भी काफी अच्छा होता है, बालों में लगाने पर बालों पर ऱूसी का असर नहीं होता है।

पेट की परेशानी को दूर करने के लिए शहद में नींबू का रस नियमित रूप से सुबह लें है। इससे कब्ज संबंधी समस्या को भी दूर किया जा सकाता है।

मसूड़े फूलने पर नींबू को पानी में निचोड़ कर कुल्ला करने से अत्यधिक लाभ होगा। इतना ही नहीं नींबू से दांतों के दर्द को भी दूर किया जा सकता है।

अधिक जानकारी के लिए ये विडियो देखें :-

अगर आपको ये पोस्ट अच्छी लगी तो जन-जागरण के लिए इसे अपने Facebook पर शेयर करें

ऐसी ही और बातों के लिए like करें हमारे पेज Such Khu को।

और ऐसे ही अन्य स्वास्थ्य सम्बन्धी जानकारी के लिए निचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें और गुरूप ज्वाइन करें।

जुडें हमारे फेसबुक ग्रुप से क्लिक करें आयुर्वेदिक देशी नुस्खे।