जानिए पत्ता गोभी के स्वास्थ्य लाभ, निरोगी रहना है जो इसे जरुर करें इस्तेमाल

216

आपने ऐसे तो कई तरह की गोभियों के बारे में सुना होगा। बाजार में इस समय गोभी की कई तरह की किस्म उपलब्ध हैं। इसी तरह खट्टी गोभी सामन्य गोभी की ही एक किस्म है। इसको लैक्टिक ऐसिड के प्रयोग से उगाया जाता है। इसमें सामान्य गोभी की तुलना में अधिक पौष्टिकता होती है जो आपको फिट और निरोग रखने में मदद करती है।

जानें क्या होती है खट्टी गोभी :

खट्टी गोभी एक प्रकार की गोभी होती है इसे लैक्टिक ऐसिड के प्रयोग से उगाया जाता है। इसमें सामान्य गोभी की तुलना में अधिक पौष्टिकता होती है जो आपको फिट और निरोग रखने में मदद करती है। इसमें विटामिन बी, ए, सी और के के साथ फाइबर भी होता है। यह एशिया, यूरोप और अमेरिका में उगाई जाती है।

इसका प्रयोग कई तरह से किया जाता है, हॉट डॉग और नूडल्स बनाने में इसका प्रयोग किया जाता है। सलाद के अलावा इसका प्रयोग स्नैक्स के रूप में भी किया जा सकता है। हालांकि अगर इसे बिना किसी फ्लेवर के आपको दिया जाये तो आपको यह पसंद नहीं आयेगा, लेकिन फ्लेवर मिलाने के बाद यह बहुत स्वादिष्ट हो जाती है।

इन बीमारियों में लाभदायक है :

कैंसर एक तरह की जानलेवा बीमारी है। इससे बचाने में खानपान की भूमिका बहुत अहम होती है। खट्टी गोभी में एक कंपाउंड पाया जाता है जिसे इसोथियोसियानिटिस कहते हैं। यह कंपाउंड कैंसर के लिए जिम्मेदार कोशिकाओं का खत्म कर देता है। यानी इसके सेवन से लंग कैंसर, ब्रेस्ट कैंसर, कोलोन कैंसर से बचा जा सकता है।

हार्ट की परेशानियों में कारगर :

दिल के लिए भी यह बहुत फायदेमंद है। इसमें पोटैशियम, मैग्नीरशियम, फ्लेवनॉयड्स होता है जो दिल की बीमारियों से बचाता है। इसके अलावा इसमें पाया जाने वाला फाइबर रक्त वाहिकाओं को मजबूत बनाता है और कोलेस्ट्रॉल को कम करता है जिससे हार्ट अटैक का खतरा कम रहता है। यानी इसके सेवन से कार्डियोवस्कुलर बीमारियों के होने का खतरा न के बराबर रहता है। तो दिल को स्वस्थ रखने के लिए खट्टी गोभी का सेवन करें।

गर्भावस्थ बच्चे के लिए लाभकारी :

गर्भावस्था के दौरान महिलाओं को खानपान में विशेष सावधानी बरतने की जरूरत होती है। क्योंकि वो जो भी खाती हैं उसका सीधा असर उनके गर्भ में पल रहे बच्चे पर पड़ता है। ऐसे में खट्टी गोभी गर्भवती महिलाओं के लिए बहुत फायदेमंद होती है। इसमें फोलेट के साथ-साथ जरूरी विटामिन होता है, जिसका सेवन मां और भ्रूण दोनों के लिए फायदेमंद होता है। इसके अलावा इसमें पाया जाने वाला विटामिन सी आहार से आयरन को अवशोषित करता है और इससे दिमाग मजबूत होता है।

मोतियाबिंद के खतरे को कम करता है :

पत्‍ता गोभी के सेवन से मोतियाबिंद का खतरा कम होता है। इसके लगातार सेवन से बॉडी में बीटा केराटिन बढ़ जाता है जिससे आंखे सही रहती है।

अल्‍माइजर को कम कर देता है :

हाल ही में हुए शोध से पता चला है कि पत्‍ता गोभी के सेवन से अल्‍माइजर जैसी समस्‍याएं दूर हो जाती है। इसमें विटामिन के भरपूर मात्रा में पाया जाता है जिससे अल्‍माइजर की समस्‍या दूर हो जाती है।

पेप्टिक अल्‍सर के इलाज में सहायक :

पत्‍ता गोभी, पेप्टिक अल्‍सर के इलाज में सहायक होती है। इस रोग से पीडित व्‍यक्ति अगर वंदगोभी का नियमित सेवन करें तो उसे आराम मिल सकता है क्‍योंकि इसमें ग्‍लूटामाइन होता है जो अल्‍सर विरोधी होता है।

वजन घटाने में :

पत्‍ता गोभी एक खास सब्‍जी है लेकिन इसके सेवन से वजन को भी कम किया जा सकता है। एक कप पकाई वंदगोभी में सिर्फ 33 कैलोरी होती है जो वजन नहीं बढ़ने देती। वंदगोभी का सूप शरीर को ऊर्जा देता है लेकिन वसा की मात्रा का घटा देता है।

मांसपेशियों के दर्द में राहत देती है :

पत्‍ता गोभी में लैक्टिक एसिड काफी मात्रा में होती है जो मांसपेशियों के चोटिल होने और उसे रिकवर करने में काफी सहायक होती है।

पाचन तंत्र को गोभी बनाती है मजबूत :

खानपान से ही पेट की समस्यायें होती हैं और फिर दूसरी बीमारियां अपने-आप होने लगती हैं। इसलिए ऐसे आहार का सेवन करना चाहिए जिससे पाचन तंत्र मजबूत रहे। खट्टी गोभी में लैक्टिक एसिड के कारण प्रोबायोटिक बैक्टीरिया होते हैं जो पेट को स्वस्थ रखने में मदद करते हैं। इसके साथ इसमें पाया जाने वाला फाइबर पाचनतंत्र को मजबूत बनाता है। दूसरे फायदे

इसमें पाया जाने वाला विटामिन सी दिमाग को मजबूत बनाता है। यह ब्लड शुगर के स्तर को भी सामान्य रखता है जिससे डायबिटीज होने की संभावना कम होती है। इसमें विटामिन के भी होता है जो हड्डियों को मजबूत बनाता है। इसमें आयरन होता है जो रक्त संचार को बढ़ाता है और शरीर को ऊर्जावान रखता है। यह एनीमिया के खतरे को भी कम करता है। इसमें पाये जाने वाले विटामिन और मिनरल के कारण इम्यून सिस्टम भी मजबूत होता है और बीमारियों के होने की संभावना कम रहती है।

खूबसूरती में चार चांद लगाती है गोभी :

इसके सेवन से शरीर के विषाक्त पदार्थ बाहर निकलते हैं और त्वचा की समस्यायें भी नहीं होती हैं। इसमें सल्फर होता है जो एक्ने की समस्या को दूर रखता है। त्वचा में बेदाग निखार लाने के लिए इसका सेवन करें, क्योंकि इसमें प्रोबॉयोटिक्स होता है। इसमें विटामिन ए होता है जिससे आंखों की रोशनी बढ़ती है। त्वचा को स्वस्थ और सुंदर बनाने के लिए इसमें लचीलापन होना बहुत जरूरी है। खट्टी गोभी में पाये जाने वाले मिनरल से त्वचा की इलास्टिसिटी बढ़ती है। तो स्वस्थ और सुंदर दिखने के लिए इसका सेवन करें।

अगर आपको ये पोस्ट अच्छी लगी तो जन-जागरण के लिए इसे अपने Facebook पर शेयर करें

ऐसी ही और बातों के लिए like करें हमारे पेज Such Khu को।

और ऐसे ही अन्य स्वास्थ्य सम्बन्धी जानकारी के लिए निचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें और गुरूप ज्वाइन करें।

जुडें हमारे फेसबुक ग्रुप से क्लिक करें आयुर्वेदिक देशी नुस्खे।