जानिए बेहतर और स्वस्थ जींवन के लिए रोजमर्रा की कुछ जरूरी बातें

199

जीवन कौशल, अनुकूली तथा सकारात्मक व्यवहार की वे योग्यताएँ हैं जो व्यक्तियों को दैनिक जीवन की माँगों और चुनौतियों से प्रभावी तरीके से निपटने के लिए सक्षम बनाती हैं।ये जीवन कौशल सीखे जा सकते हैं तथा उनमें सुधार भी किया जा सकता है। आग्रहिता , समय प्रबंधन , सविवक चिंतन , संबंधों में सुथार, स्वयं की देखभाल के साथ-साथ ऐसी असहायक आदतों, जैसे – पूर्णतावादी होना, विलंबन या टालना इत्यादि से मुक्ति, कुछ ऐसे जीवन कौशल है जिनसे जीवन की चुनौतियों का सामना करने में मदद मिलेगी।

सरल तथ्यों पर आधारित कुछ सरल टिप्स जिसके अपनाए जाने पर आपके जीवन में बड़ा अंतर आ सकता है। संतुलित आहार व्यक्ति की मन: स्थिति को ठीक कर सकता है, ऊर्जा प्रदान कर सकता है , पेशियों का पोषण कर सकता हे, परिसंचरण को समुन्नत कर सकता ह, रोगों से रक्षा कर सकता है, प्रतिरक्षक तंत्र को सशक्त बना सकता है तथा व्यक्ति को अधिक अच्छा अनुभव करा सकता है जिससे वह जीवन में दबावों का सामना और अच्छी तरह से कर सके।

कोई व्यक्ति क्या भोजन करता है तथा उसका वज़न कितना हें, इसमें व्यवहारात्मक प्रक्रियाएँ निहित होती हे। कुछ व्यक्ति पौप्टिक आहार तथा वज़न का रख-रखाव सफलतापूर्वक कर पाते हे किंतु कुछ अन्य व्यक्ति मोटापे के शिकार हो जाते हें। जब हम दबावग्रस्त होते है तो हम “आराम देने वाले भोजन” जिनमें प्राय : अधिक वसा, नमक तथा चीनी होती है, का सेवन करना चाहते है।

तो आइये आज हम आपको बताते कुछ सरल टिप्स जिसके अपनाए जाने पर आपके जीवन में बड़ा अंतर आ सकता है।

शक्कर

एक चम्मच (5 ग्रा) में 20 कैलोरीज होती हैं। चाय/कॉफ़ी के अपने दैनिक उपयोग का ध्यान रखें – ऊपर से ली गई शक्कर कैलोरीज और वजन बढ़ाने में सबसे प्रमुख भूमिका निभाती है। मधुमेह को किनारे पर ही रखें!

एक ग्राम शक्कर 4 कैलोरीज देती है।

प्रतिदिन 3 चम्मच, साल भर में 21600 कैलोरीज देती हैं।

1 ग्राम वसा जलाने से 9 कैलोरीज मिलती हैं।

एक दिन में 3 चम्मच शक्कर कम करना साल भर में 2.7 किलो वजन घटाने में मदद करता है। शक्कर के स्थान पर प्राकृतिक मिठास देने वाले तत्वों जैसे शहद, गुड़, फलों, सूखे खजूर (छुहारे, खारक), किशमिश आदि का प्रयोग करें। अपने भोजन में ऊपर से डाली जाने वाली शक्कर को धीमे-धीमे कम करते हुए स्वयं को मिठास के प्रति फिर से संवेदनशील बनाएँ।

घी

घी (डेरी-वसा) भारतीय भोजन का आवश्यक हिस्सा है और यह सब्जियों, दालों, पुलाव/बिरयानी और अन्य पकवानों में बघार लगाने और उन्हें पकाने के काम आता है। स्वाद और सुगंध बढ़ाने के लिए यह चपातियों, पराठों, चावल आदि में भी प्रयुक्त होता है। और हाँ, यह वजन बढ़ने में योगदान देने वाला सबसे बड़ा कारक है!

1 मिली घी 9 कैलोरीज देता है।

2 चाय के चम्मच भर घी प्रतिदिन, अर्थात साल भर में 32400 कैलोरीज।

प्रतिदिन 10 मिली (2 चाय के चम्मच भर) घी को कम करने से साल भर में 3.6 किग्रा तक वजन कम किया जा सकता है। घी की केवल कुछ बूँदें भी सुगंध और स्वाद को बढ़ाती हैं। बल्कि अधिक बेहतर यह है कि पशु-आधारित वसा को वनस्पति आधारित वसा से परिवर्तित कर समझदारी भरी पसंद अपनाएँ!

शराब

पुरुषों में वजन बढ़ाने वाले कारकों में सबसे बड़ा योगदान देने वाला कारक है शराब। इसके प्रतिदिन/साप्ताहिक सेवन को कम करना आपके वजन को कम करने में मदद करता है।

60 मिली व्हिस्की 150 कैलोरी देती है।

60 मिली जिन में 170 कैलोरी होती है।

300 मिली बियर 150 कैलोरी देती है (निश्चित तौर पर यह अल्कोहल की मात्रा पर निर्भर करता है)।

प्रतिदिन 60 मिली व्हिस्की कम कर देने से, साल भर में 6 किग्रा तक वजन कम किया जा सकता है!

धूम्रपान

धूम्रपान सभी के लिए बुरा और नुकसानदाई है – चाहे वे सक्रिय धूम्रपान करने वाले हों या निष्क्रिय।

हालिया गणना बताती है कि एक सिगरेट आपके जीवन के 12 मिनट कम कर देती है।

20 सिगरेट आपके जीवन के 4 घंटों की कीमत ले लेती है!

दिन में 12 बार धूम्रपान कम करने से, और ऐसा प्रतिदिन करने से, आप अपने जीवन में 36 दिन जोड़ सकते हैं! कम करना पूरी तरह छोड़ने की दिशा में एक कदम होता है।

पैदल चलना

पैदल चलना व्यायाम करने का सबसे सरल तरीका है। यह आपको सबसे अधिक लाभ देता है और यह इसपर निर्भर करता है की दैनिक जीवन में इसे कितनी आसानी से शामिल किया जाता है।

6 किमी/घंटा की गति से एक घंटा पैदल चलना 350 कैलोरीज भस्म करता है।

4 किमी/घंटा की गति से एक घंटा पैदल चलना 160 कैलोरीज भस्म करता है।

8 किमी/घंटा की गति से एक घंटा पैदल चलना 520 कैलोरीज भस्म करता है।

सामान्य रूप से अधिक सक्रिय रहें। हालाँकि, सोने से भी प्रति घंटा 57 कैलोरी खर्च होती हैं! इसकी बढ़ने की गति को समझिये:

बैठने से एक घंटे में 86 कैलोरी खर्च होती हैं।

खड़े रहने से एक घंटे में 132 कैलोरी खर्च होती हैं।

खरीदारी करने से एक घंटे में 204 कैलोरी खर्च होती हैं।

बागवानी से एक घंटे में 300 कैलोरी खर्च होती हैं।

11किमी/घंटे की रफ़्तार से दौड़ना एक घंटे में 700 कैलोरी खर्च करता है!

अगर आपको ये पोस्ट अच्छी लगी तो जन-जागरण के लिए इसे अपने Facebook पर शेयर करें

ऐसी ही और बातों के लिए like करें हमारे पेज Such Khu को।

और ऐसे ही अन्य स्वास्थ्य सम्बन्धी जानकारी के लिए निचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें और गुरूप ज्वाइन करें।

जुडें हमारे फेसबुक ग्रुप से क्लिक करें आयुर्वेदिक देशी नुस्खे।