अगर आप भी बढ़ाना चाहते अपनी शारीरिक शक्ति तो ऐसे खाएं रोज 1 चुकंदर और जानिए अन्य फायदे भी

1090

आज हम आपको बताने जा रहे है चुकंदर और चुकंदर के पत्ते खाने से होने वाले फायदे के बारे में जिसे खाने के अनेक फायदे है। वैसे चुकंदर और चुकंदर के पत्ते खाना सेहत के लिए काफी फायदेमंद  है। चुकंदर का रंग लाल होता है इसलिए इसको खाने से खून ( Blood ) की कमी को भी दूर किया जा सकता है। वैसे लोग अक्सर सिर्फ चुकंदर को खाते हैं और उसके पत्तियों को फेंक देते हैं।

चुकंदर के पत्तों Vitamins, proteins, iron, fiber पाए जाता है। जो हमारी सेहत के लिए काफी फायदेमंद  है। चुकंदर खाने से Immune system भी मजबूत होता है। चुकंदर और चुकंदर के पत्ते खाने से होने वाले फायदे

चुकंदर के पोषक तत्व

चुकंदर में कई प्रकार के पोषक तत्व पाये जाते है। इसकी विशेषता इसमें पाये जाने वाले नाइट्रेट तथा फाइबर होते है जिनका शरीर पर एक अलग ही प्रभाव पड़ता है।

चुकंदर में फोलेट काफी मात्रा में होता है। इससे फोलिक एसिड मिलता है जो खून की कमी दूर करने में महत्त्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

इसके अतिरिक्त चुकंदर में विटामिन सी , कैल्शियम , मेगनीज , आयरन , मैग्नेशियम , फास्फोरस , सोडियम , ज़िंक , कॉपर जैसे खनिज पाये जाते है जो शरीर के लिए बहुत फायदेमंद होते है।

इसमें कार्बोहाइड्रेट की भरपूर मात्रा होती है। इस कारण यह भरपूर ऊर्जा देता है। सब्जियों में सबसे अधिक शक्कर चूकंदर में ही होती है।

चुकंदर के फायदे

चुकंदर के सेवन करना Diabetes में लाभदायक है चुकंदर के सेवन से अपने मीठे की तलब मिटा सकते हैं। चुकंदर के खाने से फायदा ये होता है कि मीठे की तलब पूरी होने पर भी ये आपका ब्लड शुगर लेवल नहीं बढ़ाता क्योंकि ये Glycaemic Index Vegetable है। इसका अर्थ ये है कि ये खून में बहुत धीरे-धीरे शुगर रिलीज करती है। इसमें बहुत कम Calories होती है और इसका fat-फ्री होना भी इसे Diabetes के मरीजों के लिए Perfect Vegetable बनाता है।

चुकंदर के पत्ते में भरपूर Calcium मात्रा में पाया जाता है ये शरीर का विकास और हड्डियों का विकास में फायदेमंद है । चुकंदर के पत्ते में 100 gram चुकंदर के पत्ते में 99 मिलीग्राम Calcium पाया जाता है।

चुकंदर में घुलनशील फाइबर प्रचुर मात्रा में होते है।  इसमें बीटा सियानिन तथा बेटानिन नामक एंटीऑक्सिडेंट होते है। ये ताकतवर एंटी ऑक्सीडेंट होते है जो नुकसान दायक कोलेस्ट्रॉल LDL को कम करते है तथा इसे धमनियों में जमने नहीं देते ।इस तरह ह्रदय रोग से बचाव हो सकता है। चुकंदर का ब्लड प्रेशर को कम करने वाला गुण भी ह्रदय रोग से बचाता है।

खून की कमी में चुकंदर के पत्ते का सेवन करना लाभदायक है । अक्सर महिलाओं में खून की कमी वाली बीमारी देखने को मिलती है । जिसे Anemia कहते हैं। गर्भ के समय यह समस्या महिलाओं में और भी बढ़ जाती है। सभी जानते हैं कि चुकंदर में खून की कमी दूर करने की क्षमता होती है । ठीक वैसे ही उसके पत्ते भी ख़ून की कमी को दूर करने में बहुत ही उपयोगी होते हैं। इसमें आयरन की बहुत ज्यादा मात्र पायी जाती है। आयरन लाल रक्त कणों की बढ़ोत्तरी करने में सहायक होता है।

पुराने ज़माने में इसका इस्तेमाल यौन स्वास्थ्य के लिए किया जाता है। चुकन्दर Nitric Oxide Release करता है जिससे कि रक्त वाहिनियों का विस्तार होता है और Genetales में खून का दौरा बढ़ता है। इसके अलावा, चुकन्दर में बहुत अधिक मात्रा में एक केमिकल बोरॉन पाया जाता है जो कि ह्यूमन सेक्स हार्मोन के निर्माण में मददगार होता है।

पथरी की समस्या में फायदेमंद

चुकंदर का सेवन करके आप पथरी जैसी गंभीर समस्या से भी छुटकारा पा सकते हैं आप चुकंदर को पानी में उबालकर उसका सूप तैयार कर लीजिए अब इस सूप का सेवन करें इससे आपकी पथरी आसानी से बाहर निकल जाएगी आपको यह प्रयोग दिन में तीन बार करना है इसके इस्तेमाल से आपके लीवर की सूजन में भी कमी आती है।

कैल्शियम की करता है पूर्ति

अगर आप अपने शरीर को स्वस्थ और हड्डियों को मजबूत बनाए रखना चाहते हैं तो इसके लिए कैल्शियम की बहुत ही आवश्यकता पड़ती है हमारे शरीर की हड्डियों के विकास के लिए कैल्शियम बहुत महत्वपूर्ण होता है और हमारे दांतो को मजबूती प्रदान करने में कैल्शियम जरूरी है अगर आपके शरीर में कैल्शियम की कमी आ जाती है तो आप रोजाना नियमित रूप से चुकंदर का जूस जरूर पिए चुकंदर में मौजूद मिनरल सिलिका शरीर में कैल्शियम की कमी को पूरा करता है।

हड्डीयाँ और दांत

चूकंदर में सिलिका खनिज होता है जो शरीर में कैल्शियम के अवशोषण में मदद करता है। अतः चूकंदर खाने से हड्डियां और दांत मजबूत बनने में मदद मिलती है। दांत में कीड़ा जल्दी से नहीं लगता।

पाचन तंत्र

चुकंदर से मिलने वाला घुलनशील फाइबर से आंतें साफ रहती है। इस वजह से कब्ज और बवासीर की परेशानी से बचाव होता है। इसका फाइबर पाचन तंत्र से हानिकारक तत्वों को मिटाकर उसे मजबूत बनाते है।

माहवारी

माहवारी के समय होने वाले कमर दर्द , पीठ दर्द , तथा कमजोरी के लिए चुकंदर का नियमित उपयोग लाभदायक होता है। खून की कमी दूर होकर हीमोग्लोबिन का स्तर सही बना रहता है।

खून की कमी होने से माहवारी के समय ज्यादा परेशानी होती है तथा इससे रक्तस्राव भी अधिक मात्रा में हो सकता है। अतः महिलाओं को चुकंदर का नियमित उपयोग अवश्य करना चाहिए।

अगर आपको ये पोस्ट अच्छी लगी तो जन-जागरण के लिए इसे अपने Facebook पर शेयर करें ।

ऐसी ही और बातों के लिए like करें हमारे पेज Such Khu को।

और ऐसे ही अन्य स्वास्थ्य सम्बन्धी जानकारी के लिए निचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें और गुरूप ज्वाइन करें।

जुडें हमारे फेसबुक ग्रुप से क्लिक करें आयुर्वेदिक देशी नुस्खे।