अगर आ जाए पैर में मोच तो इन नुस्खों से पायें जल्द राहत

153

मोच आना जिसे इंग्लिश में leg sprain या ankle sprain के नाम से जानते हैं एक बहुत ही आम जोड़ों से जुडी समस्या है जो किसी को भी किसी भी समय हो सकती हैं। मोच आने पर आपके पैरों के लिगामेंट्स जरुरत से ज्यादा खींच जाते हैं जिससे उनको क्षति पहुँचती है जिसके फलसवरूप उस जगह पर तेज दर्द और सूजन हो जाती है और आपका चलना फिरना बहुत ही मुश्किल हो जाता है।

मोच के कई कारण हो सकते हैं जैसे अधिक भर उठाने से पैर का मुड़ना या फिर चलते दौड़ते समय अचानक से पैर का जरुरत से जयादा मुड जाना। कुछ लोग तो एक ही पैर में बार बार मोच आने से भी परेशान  रहते हैं। दोस्तों, यदि आपकी मोच हलकी फुलकी है तो आप उसे घरेलु नुस्खे और प्राकर्तिक उपचार के उपाय अपनाकर ठीक कर सकते हैं। आम तौर पर आपको 1-2 दिन में आराम मिल जाता है। लेकिन यदि आपको कुछ दिनों बाद भी आराम न मिले और दर्द और सुजन आपकी सहन से बहार हो रहे हैं तो किसी अच्छे हड्डियों के डॉक्टर से मिलना ही समझदारी होगी।

कई बार दौड़ते समय या चलते समय पांव में मोच आ जाती है यानि नीचे से आपका पांव मुड़ जाता है, जिसकी वजह से आपके काफी दर्द होता है। मोच आने पर इतना दर्द होता है कि आप खड़े भी नहीं हो पाते हैं। आज हम आपको मोच सही करने के वो तरीके बता रहे हैं जिन्हें आप अपने घर पर ही आजमा सकते हैं और अपनी मोच को बिना दर्द के ठीक कर सकते हैं। आइए जानते हैं मोच ठीक करने के वो आसान तरीके।

हल्दी और चूने का करें इस्तेमाल-

जब पांव में या हाथ में मोच आ जाए तो एक एक कटोरी या छोटे पैन में दो चम्मच हल्दी और एक चम्मच चूना लें। फिर उसको अच्छी तरह से फेंटकर धीमी आंच में एक-दो मिनट रखने के बाद उतार दें और गुनगुना गर्म अवस्था में मोच वाले जगह पर लगाएं। जब तक न सूखे निकालें नहीं, सूखने के बाद गुनगुने गर्म पानी से धो लें। आपको कुछ देर में आराम मिलने लगेगा।

बर्फ का सेंक करें-

कई बार पांव की तरह हाथ में भी मोच आ जाती है, ऐसा होने पर जहां भी मोच आ गई है वहां बर्फ का सेंक करें। इसके लिए थोड़ी सी बर्फ एक कपड़े में बांधकर सूजन वाली जगह पर लगाएं, जिससे कि आपका खून सर्कुलेशन ठीक हो जाता है और आपका दर्द धीरे-धीरे कम होने लग जाता है।

इमली का पत्ता

क्या आप जानते हैं कि इमली के पत्तों में एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटी-सेप्टिक गुण पाए जाते हैं। अगर मोच आ जाए तो इमली के पत्तों का इस्तेमाल करें। इसके लिए गुनगुना पानी लें और इमली के पत्तों को पीसकर मोच वाली प्लेस पर लगा लें।

प्याज़ से मोच ठीक करना

प्याज में दर्द निवारक और सूजन  दूर करने वाले गुण मौजूद होते हैं। मोच के लिए इस इस्तेमाल करने के लिए आप प्याज़ के बारीक बारीक टुकड़े कर लें और इन्हें पतले कपडे में बंद कर अपनी मोच वाली जगह पर दो घंटों के लिए लगाकर रखें। आप समय समय पर प्याज़ का रस भी लगा सकते हैं।

इस तरह लगाएं सरसों का तेल-

बता दें कि सरसों और हल्दी का एन्टी-इन्फ्लैमटोरी और एन्टी-फंगल गुण सूजन और घाव को ठीक होने में मदद करता है। अगर आपके मोच वक्त स्किन पर भी चोट आ जाती है तो वो इससे ठीक हो सकती है। इसके लिए सबसे पहले एक कटोरी में पांच-छ चम्मच सरसों का तेल लें। उसमें आधा छोटा चम्मच हल्दी पाऊडर या कच्चा हल्दी का पेस्ट लें और चार-पांच लहसुन की फांक पीसकर डालने के बाद धीमी आंच में कुछ देर रखें। उसके बाद मोच पर धीरे-धीरे इस तेल से मसाज करें। ऐसा करने से आपको जल्द ही आराम मिलने लगेगा।

पत्ता गोभी के पत्ते

पत्ता गोभी के पत्तों को अकसर मोच आने और हड्डी टूटने पर सुजन और दर्द से छुटकारा पाने के लिए इस्तेमाल में लाया जाता है। इन पत्तों को हल्का गर्म करके मोच वाली जगह पर bandage के द्वारा बाँध कर आधे घंटे तक रखा जाता है। दिन में ऐसा दो बार करने से आराम मिलता है।

एलोवेरा है लाभकारी

मोच आने पर एलोवेरा लगाना न भूलें इससे दर्द तुरंत गायब हो जाता है।

शहद और चूने का मिश्रण

चूने में पर्याप्त मात्रा में कैल्शियम होता हैं जो की हड्डियों में असरकारक होता हैं इसीलिए सामान्यतः दर्द में और चोट लगने पे इस्तेमाल किया जाता हैं । मोच वाले स्‍थान पर शहद और चूना मिला कर हल्‍की मालिश करें।

फिटकरी भी है फायदेमंद

जब मोच आ जाए तो दूध में आधा चम्मच फिटकरी डालकर पीएं।

नमक

नमक में थोड़ी सी गर्माहट देने के गुण होते हैं जो की दर्द को ख़तम करता हैं । नमक को सरसों के तेल में मिलाएं और घुटने में मोच वाली जगह में लगायें जिससे इस दर्द से आराम मिलेगा।

गर्म पानी

कई बार दर्द ज्यादा होने लगता हैं जिसके लिए गर्म पानी की सेंक भी फायदेमंद होती हैं । आप हल्का गुनगुना पानी लीजिए और धीरे धीरे मोच वाली जगह में लगाइए जिससे आपको अच्छा भी लगेगा और दर्द में आराम मिलेगा ।

डॉक्टर से सलाह ले

कई बार हलकी सी चोट लगने पर उसे सरता से लेने लगते हैं जो की बाद में आंतरिक रूप से बड़ी हो जाती हैं इसीलिए आपको डॉक्टर के पास जरूर जाना चाहिये।

अगर आपको ये पोस्ट अच्छी लगी तो जन-जागरण के लिए इसे अपने Facebook पर शेयर करें

ऐसी ही और बातों के लिए like करें हमारे पेज Such Khu को।

और ऐसे ही अन्य स्वास्थ्य सम्बन्धी जानकारी के लिए निचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें और गुरूप ज्वाइन करें।

जुडें हमारे फेसबुक ग्रुप से क्लिक करें आयुर्वेदिक देशी नुस्खे।