जानिए कैसे हर रोज एक संतरा, आपको इन बीमारियों से बचाने की रखता है ताकत

572

सर्दियां आते ही बाज़ार में आ जाते हैं ताज़े संतरे. जिसे आप और हम कई तरीकों से अपनी डाइट में शामिल करते हैं। कोई सुबह जूस की तरह पीता है तो कई इसे शाम के ब्रेक में खाना पसंद करता है।

विटामिन सी, ए, अमिनो एसिड, बी कॉम्प्लेक्स, फ्लेवोनॉयड, कैल्शियम, फॉस्फोरस, सोडियम जैसे मिनरल्स से भरे इस फल को खाने के कई फायदे होते हैं।संतरा एक स्वास्थ्यवर्धक फल है। इसमें प्रचुर मात्रा में विटामिन सी होता है। लोहा और पोटेशियम भी काफी होता है।

संतरे की सबसे बड़ी विशेषता यह है कि इसमें विद्यमान फ्रुक्टोज, डेक्स्ट्रोज, खनिज एवं विटामिन शरीर में पहुंचते ही ऊर्जा देना प्रारंभ कर देते हैं। संतरे के सेवन से शरीर स्वस्थ रहता है, चुस्ती-फुर्ती बढ़ती है, त्वचा में निखार आता है तथा सौंदर्य में वृद्धि होती है।

सिर्फ एक दिन में एक संतरा शरीर को कई बीमारियों से बचा कर रखता है। यहां आपको संतरे खाने के 5 फायदों के बारे में बता रहे हैं।

ब्लड प्रेशर कंट्रोल करे :-

ब्लड प्रेशर को लो होने से बचाने के लिए सबसे ज़रूरी है सोडियम की मात्रा को बैंलेस रखना। संतरा सोडियम की मात्रा को नॉर्मल रख ब्लड प्रेशर को सही रखता है। इसीलिए जिसे भी हाई या लो ब्लड प्रेशर की परेशानी हो वो अपनी डाइट में संतरा ज़रूर शामिल करें।

कैंसर से बचाए :-

विटामिन सी से भरपूर संतरा शरीर को नुकसान पहुंचाने वाले फ्री-रैडिक्लस से सुरक्षित रखता है। साथ ही इसमें पाया जाने वाला लाइमोनिन कैंसर सेल्स को बढ़ने से रोकता है। मैंडरिन संतरे में विटामिन ए भरपूर मात्रा में पाया जाता है। जापान में हुई एक स्टडी के मुताबिक मैंडरिन संतरा लिवर कैंसर होने के खतरे को कम करता है।

किडनी पथरी से रखे सेफ :-

रोज़ाना संतरे का सेवन किडनी में होने वाली पथरी के खतरे को कम करता है। इसीलिए आप संतरे को रोज़ाना अपनी डाइट में शामिल करें। पथरी के लिए संतरे को लिक्विड रूप में पीएं ज़्यादा फायदा होगा।

बवासीर में दिलाए आराम :-

संतरा पेट के अल्सर को खत्म करता है और बवासीर में राहत दिलाता है। इसके लिए रोज़ाना खाना खाने के बाद एक ग्लास संतरे का जूस पीएं। बवासीर के मरीज़ संतरे के छिलके के पाउडर को भी पानी में मिला कर पी सकते हैं।

सर्दी-जुकाम करे छुमंतर :-

संतरे में मौजूद विटामिन सी सर्दी-जुकाम में राहत दिलाता है। लोगों का ऐसा मानना है कि संतरे की तासीर ठंडी होती है इसीलिए इसे सर्दी-खांसी में नहीं खाना चाहिए, लेकिन ऐसा कुछ भी नहीं होता है। बल्कि संतरा या विटामिन सी वाले सभी फल सर्दी में राहत दिलाते हैं

गठिया :-

सर्दियों में गठिया रोगियों के जोड़ों और घुटनों का दर्द और भी बढ़ जाता है। ऐसे में संतरे के रस और बकरी के दूध को मिलाकर पीने पर इस दर्द से राहत मिलती है।

बुखार :-

अगर आपको तेज बुखार है तो दिन में 2 बार संतरे के जूस का सेवन करें। इसका सेवन शरीर के तापमान को कम करने में मदद करता है।

पेट की समस्याएं :-

संतरे के रस को गर्म करके उसमें काली मिर्च और सूंड का रस मिला लें। पेट में गैस, अपच, कब्ज, बदहजमी, सूजन, इंफेक्शन और बदहजमी को दूर करने के लिए इस मिश्रण का सेवन का सेवन करें।

अगर आपको ये पोस्ट अच्छी लगी तो जन-जागरण के लिए इसे अपने Facebook पर शेयर करें

ऐसी ही और बातों के लिए like करें हमारे पेज Such Khu को।

और ऐसे ही अन्य स्वास्थ्य सम्बन्धी जानकारी के लिए निचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें और गुरूप ज्वाइन करें।

जुडें हमारे फेसबुक ग्रुप से क्लिक करें आयुर्वेदिक देशी नुस्खे।