अरंडी का तेल (castor oil) अमृत तुल्य है, जानिए इसके चमत्कारिक औषधीय लाभ

748

अरंडी (castor oil) या कैस्टर ऑयल के तेल के अनगिनत स्वास्थ्य फायदे हैं। इस तेल का एंटी-इंफ्लेमेटरी प्रभाव पड़ता है, जिस वजह से ये आपको जोड़ों के दर्द से बचाने में सहायक है। इस तेल को बेकिंग सोडा के साथ मिलाकर लगाने से अल्सर जैसी समस्या से छुटकारा पाया जा सकता है।

बालों की समस्या दूर करने के लिए अरंडी का तेल प्रयोग करना बहुत ही कारगर है। में यह गंजापन जो विविध कारणों से जैसे व्यक्ती के जीन्स, आहार, रोजमर्रा के जीवन के तनाव के स्तर, व्यक्ती के परिवेश, साथ ही जिवनशैली के परिणाम स्वरुप होता है, के लिए प्राकृतिक बालों के तेल का एक प्रकार माना जाता है। जमैका ब्लॅक केस्टर ऑयल अरंडी के तेल का एक लोकप्रिय उदाहरण जो बालों के गिरने और पतले होने को रोकता है।

इसे भी पढ़े : जानिए केसर (Saffron) का आयुर्वेद में महत्त्व और इसके अद्भुत स्वास्थ्य लाभ

आईये जानते है अरंडी का तेल हमारे लिए कैसे लाभकारी है :-

गर्भवती महिलाओं के लिए अच्छा :-

कैस्टर ऑयल गर्भाशय संकुचन पर दबाव डालकर लेबर के लिए प्रेरित करता है। इसमें रिसिनोलिक एसिड होता है, जो गर्भाशय में ईपी3 प्रोस्टेनोइड रिसेप्टर को सक्रिय करता है, जिससे प्रसव को आसान और सहज बनाने में मदद मिलती है।

अल्सर से छुटकारा दिलाने में सहायक :-

कैस्टर ऑयल को बेकिंग सोडा के साथ मिलाकर लगाने से मिनटों अल्सर से राहत मिलती है। ये कॉर्न के प्रभावी इलाज में भी सहायक है। इसमें फैटी एसिड होता है, जिसे त्वचा आसानी से अवशोषित कर लेती है। ये ओवेरियन सिस्ट को भी खत्म करता है।

इसे भी पढ़े : जानिये आयुर्वेद की इन चुनिंदा जड़ी-बूटियों में छिपा है हर बीमारी का इलाज

जोड़ों के दर्द को कम करता है :-

इसका एंटी-इंफ्लेमेटरी प्रभाव पड़ता है, जिस वजह से ये गठिया के इलाज में सहायक है। इसके अलावा इस तेल की मालिश करने से जोड़ों के दर्द, मांसपेशियों में सूजन और नसों के बेचैनी को कम करने में मदद मिलती है।

इम्युनिटी सिस्टम में सुधार करता है :-

नेचुरोपैथी कराने वाले लोगों को कैस्टर ऑयल से इम्युनिटी सिस्टम मज़बूत करने में मदद मिलती है। ये व्हाइट ब्लड सेल्स को बढ़ाकर आपके शरीर को इन्फेक्शन से लड़ने की शक्ति देता है

कब्ज़ से राहत दिलाता है :-

ये तेल रिसिनोलिक एसिड जारी करने में मदद करता है, जो आंत में मौजूद है। एसिड जारी करने के बाद, यह एक लैक्सटिव के रूप में अच्छी तरह से काम करता है। ये तेल गर्म होता है, इसलिए ये मल त्याग के प्रक्रिया को आसान बनाने और आंतरिक प्रणाली को साफ रखने में सहायक होता है।

इसे भी पढ़े : जानिये लो बीपी (LOW BP) का चमत्कारी घरेलू आयुर्वेदिक इलाज, इन 4 तरीको से

बालों के लिए अरंडी के तेल है अमृत समान :-

बालों के बढ़ने में वृद्धि करता है।

पतले हो रहे बालों को घना करने में मदद करता है।

बालों का नुकसान दिखना कम करता है और बालों के नुकसान को रोकता है।

सूखे बालों को पोषण और उन्हें चमक और उछाल देता है।

बालों को घनापन और चमक देता है जिसके परिणामस्वरुप बाल स्वस्थ दिखते है।

बालों और सिर की त्वचा को गहराई से कंडिशनिंग और नमी देता है।

सिर की त्वचा का सूखापन रोकता है।

बालों के समग्र स्वास्थ्य को बढ़ाता है।

इसके अलावा, बालों के छोर पर अरंडी के तेल लगाने से उनका घुंघराला दिखना, और दो मुँहापन समाप्त होता है और क्षतिग्रस्त होने को रोकता है। बाल भी काफ़ी मजबूत हो जाते है और दो मुँहे बाल विकसित नही होते।

कैसे प्रयोग करें :-

उंगलियों के प्रयोग से, बाल की जड़ों और सिर की त्वचा पर उच्च मात्रा में अरंडी के तेल लगाए।

सिर की त्वचा पर तेल समान रूप से वितरित हो रहा है,यह सुनिश्चित करे।

बाकी बालों में तेल लगाने से बचें क्योंकि तेल के गाढ़ेपन से बालों से तेल धोकर निकालने में मुश्किल हो सकती है।

इसे भी पढ़े : जानिये तेजी से वजन घटाना है तो रोजाना इस तरह पीएं 1 ग्लास दूध

सिर की त्वचा पर लगाने के बाद, एक प्लास्टिक की टोपी के साथ अपने बालों को ढके और एक तौलिया में लपेटे।

तेल को कम से कम 15 से 20 मिनट तक रहने दे या रात भर भी रख सकते हैं।

बाद में अरंडी के तेल को निकालने के लिए शैम्पू के साथ धूलें।

यह उपाय हप्ते में एक बार करे और छह से आठ सप्ताह तक ऐसा करे जिससे अच्छे परिणाम दिखेंगे।

आप अन्य तेलों के साथ जैसे अंगूर के बीज का तेल, नारियल तेल के साथ अरंडी का तेल का मिश्रण करके बालों में लगा सकते है, जिससे उसका गाढ़ापन और अप्रिय गंध कम होगी। केवल प्राकृतिक अरंडी के तेल का उपयोग करें।

इसके प्रयोग की विधि और अन्य फायदों के लिए ये विडियो जरुर देखे :-

अगर आपको ये पोस्ट अच्छी लगी तो जन-जागरण के लिए इसे अपने Facebook पर शेयर करें

ऐसी ही और बातों के लिए like करें हमारे पेज Such Khu को।

और ऐसे ही अन्य स्वास्थ्य सम्बन्धी जानकारी के लिए निचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें और गुरूप ज्वाइन करें।

जुडें हमारे फेसबुक ग्रुप से क्लिक करें आयुर्वेदिक देशी नुस्खे।