कील-मुंहासों से छुटकारा पाने के लिए अपनाएं अचूक घरेलू नुस्खें

343

किशोरों (Teenager) में अपने लुक्स को लेकर आजकल कुछ ज्यादा ही जागरूकता आ गई है। युवावस्था में कर्इ प्रकार के हार्मोनल बदलाव होते हैं जिसके कारण त्वचा की तैलीय ग्रंथियां एक्टिव हो जाती हैं। इसी कारण तैलीय ग्रंथियों पर बैक्टीरियां आक्रमण कर देते हैं और चेहरे पर मुंहासे का कारण बनते हैं। सामान्यत: यह समस्या युवाओ में होती हैं। जिसके कर्इ कारण हैं जैसे अत्यधिक कैमिकल युक्त सौंदर्य प्रसाधनों का इस्तेमाल करना, अधिक मात्रा में फास्ट फूड का सेवन करना, अनियमित दिनचर्या का होना, अनिंद्रा, कम पानी पीना, धूल एवं गंदगी के संपर्क में रहना, एलर्जी, पेट की बीमारियां, ज्यादा मिर्च मसालेदार भोजन करना आदि।

हम आपको कुछ साधारण से उपाय बता रहे हैं जिससे कि आप आसानी से घर पर ही मुंहासों की समस्या से छुटकारा पा सकते हैं। पिम्पल दूर भगाने के लिए प्राकृतिक (Natural) और आसान तरीके मौजूद हैं। आश्चर्यजनक तथ्य यह है कि प्राकृतिक तरीकों से एक रात में ही पिम्पल का सफाया किया जा सकता है।

बर्फ थैरेपी (Ice Therapy for Pimples and Acne)-

अगर आपके घर में बर्फ का एक टुकड़ा मौजूद है तो पिम्पल होने पर दवाई लगाना और उसके हटने का इंतजार करना बेवकूफी है। जी, हां! बर्फ असल में पिम्पल की लालिमा (Redness) को कम करता है, सूजन कम होती और जलन में भी कमी आती है। वास्तव में बर्फ लगाने से रक्तसंचार (Blood Circulation) में वृद्धि होती है और रोमछिद्रों (Pores) को भी प्रभावित करती है। बर्फ के जरिये पिम्पल के इर्द-गिर्द मौजूद गंदगी और तेल पूरी तरह निकल जाता है। आपको सिर्फ इतना करना है कि एक कपड़े में बर्फ के टुकड़े को लपेटना है और पिम्पल पर उसे कुछ सेकेंडों (Seconds) के लिए फेरना है। यही प्रक्रिया कुछ कुछ मिनटों में दोहरानी है।

सफेद टूथपेस्ट (White toothpaste to Cure Pimples and Acne)-

सफेद टूथपेस्ट (White toothpaste) काफी हद तक बर्फ ट्रीटमेंट की तरह काम करता है। सफेद टूथपेस्ट को तकरीबन एक घंटे के लिए पिम्पल पर लगाकर छोड़ दें। लेकिन यह ध्यान रखें कि आपका टूथपेस्ट जेलयुक्त न हो। पिम्पल हटाने के लिए सफेद टूथपेस्ट का ही इस्तेमाल करें। यह पिम्पल की सूजन कम करने में सहायक है।

स्टीम उपचार (Take Steam)-

चेहरे की दमक (Glowing Face) के लिए स्टीम उपचार (Steam Therapy) बेहद जरूरी है। यह न सिर्फ गंदगी हटाता है बल्कि चेहरे की त्वचा को मुलायम भी रखता है। दरअसल स्टीम उपचार के जरिये रोम छिद्र (Pores) खुल जाते हैं। नतीजतन त्वचा को सांस लेने में आसानी होती है। स्टीम उपचार लेने से चेहरे में गंदगी नहीं जमती जिससे पिम्पल होने की आशंका में कमी आती है।

लहसुन का चमत्कार (Use Garlic for Acne)-

लहसुन पिम्पल को हटाने के लिए किसी चमत्कारिक उपचार से कम नहीं है। दरअसल लहसुन एंटीवायरल (Antiviral),एंटीफंगल (Antifungal), एंटीसेप्टिक (Antiseptic) और एंटीऑक्सीडेंट (Antioxidant) है जो तेजी से घाव आदि को भरता है। यही नहीं पिम्पल को भी आसानी से ठीक करता है। इसमें सल्फर (Sulphur) भी पाया जाता है। यह भी त्वचा के लिए लाभदायक तत्व है। आपको सिर्फ इतना करना है कि लहसुन छीलकर उसे अपने पिम्पल पर लगाना है। 5 से 7 मिनट तक लहसुन लगाने के बाद चेहरे को हल्के गुनगुने पानी (Luke Warm Water) से धोना है। आप इसी प्रक्रिया को एक घंटे बाद दोहरा सकते हैं।

सेब युक्त सिरका (Apple Cider Vinegar)-

हालांकि यह हर घर में आसानी से पाया जाने वाला तत्व नहीं है। लेकिन जब बात पिम्पल की आती है तो यह पिम्पल हटाने के लिए पावर हाउस (Powerhouse) का काम करता है। सेब युक्त सिरका बैक्टीरिया को खत्म करता है और त्वचा के पीएच (Ph) को संतुलित रखता है।चेहरे को अच्छी तरह धोने के बाद सेब युक्त सिरका में पानी मिलाकर एक किस्म का फेसवॉश (Facewash) बनाया जा सकता है। इसका इस्तेमाल चेहरे पर रूई (Cotton) के जरिये करें। इस पैक को दस मिनट तक चेहरे पर लगाए रखें। धोने के बाद अपने चेहरे का फर्क देखें।

अण्डे का सफेद भाग (White Part of Egg is Benefical for Acne)-

अण्डे का सफेद भाग प्रोटीन (Protien) से भरा हुआ है जो कि कील-मुंहासों से लड़ने में सहायक है। अण्डे का सफेद भाग आसानी से चेहरे के सभी दाग धब्बों को निकाल सकता है। इसके लिए आपको चाहिए कि तीन अण्डे के सफेद भागों को एकत्रित करें (Mix 3 Eggs White Part)। इसके बाद इन्हें अच्छी तरह मिक्स करें और कुछ क्षणों के लिए इन्हें अच्छे से मिक्स होने के लिए रख दें। अपने अंगुली से इस पेस्ट को पिम्पल पर लगाएं (Apply with your Fingres)। जैसे ही पिम्पल पर लगा पेस्ट सूख जाता है, उसे धो दें। ऐसा नियमित चार बार करें। आखिर में पेस्ट को 20 मिनट के लिए चेहरे पर लगाए रखें। इसके बाद फर्क महसूस करें।

टमाटर (Effect of Tomato on Pimples and Acne)-

टमाटर तैलीय त्वचा (Oily Skin) के लिए सबसे सहायक पदार्थ है। इसमें लाइसोपीन (lysopene) नामक एंटीआक्सीडेंट (Antioxidant) होता है जो त्वचा की सुरक्षा करता है। यही नहीं टमाटर डैमेज त्वचा (Damaged Skin) के लिए भी प्रभावी है। टमाटर में एंटीबैक्टीरियल (Antibacterial) तत्व भी मौजूद है जिससे ब्लैकहेड्स (Blackheads) और चेहरे के कालेपन को खत्म किया जा सकता है। ताजे टमाटर से बने जूस को अपने चेहरे पर मास्क (Mask) की तरह इस्तेमाल करें। उसके बाद एक घंटे बाद चेहरे को धो दें।

संतरे के छिलके (Use of Orange Peel)-

सबसे पहले अपने चेहरे को गर्म पानी से धोएं ताकि चेहरे के छिद्र (Skin Pores) खुल सके। इसके बाद संतरे के छिलके को पिम्पल पर लगाएं। ऐसा एक घंटे तक करते रहें। संतरे के छिलके में मौजूद विटामिन सी (Vitamin C) आपके पिम्पल को निकालने में मदद करेगा।

पपीता (Papaya for Acne)-

गर्म पानी से चेहरे को धोने के बाद चेहरे पर पपीता का मिक्सचर (Mixture of Papaya) लगाएं। 15-20 मिनट बाद चेहरे को धोएं। इससे चेहरा मोएस्चराइज (Moisturize) होता है साथ ही पिम्पल आने की आशंका भी कम होती है।

केले के छिलके (Banana peels is Benefical for Acne)-

केला खाना जितना फायदेमंद है, उतना ही फायदेमंद केले का छिलका भी है। पिम्पल होने पर केले के छिलके को फेंके नहीं चेहरे पर मास्क की तरह इस्तेमाल करें।

अगर आपको ये पोस्ट अच्छी लगी तो जन-जागरण के लिए इसे अपने Facebook पर शेयर करें

ऐसी ही और बातों के लिए like करें हमारे पेज Such Khu को।

और ऐसे ही अन्य स्वास्थ्य सम्बन्धी जानकारी के लिए निचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें और गुरूप ज्वाइन करें।

जुडें हमारे फेसबुक ग्रुप से क्लिक करें आयुर्वेदिक देशी नुस्खे।